नागरिकता पर उठे सवाल तो आलिया की मां सोनी राजदान ने दिया मुंहतोड़ जवाब

नागरिकता पर उठे सवाल तो आलिया की मां सोनी राजदान ने दिया मुंहतोड़ जवाब

- in ग्लैमर
0

जबसे अलिया भट्ट की मां सोनी राजदान ने पाकिस्तान जाकर खुश रहने की इच्छा जताई है, तबसे वह सोशल मीडिया में जमकर ट्रोल भी हो रही हैं। देश में चुनाव का माहौल है, ऐसे में हर कोई एक-दूसरे को सोच-समझ कर मतदान करने का सलाह दे रहा है। हाल ही में सोनी राजदान ने भी लोगों को वोट करने से पहले जुनैद खान के बारे में सोचने की हिदायत दी।

सोनी राजदान ने अपने सोशल हैंडल पर जुनैद खान की तस्वीर पोस्ट की, यह वही जुनैद खान हैं, जो हरियाणा ( बल्लभगढ़ ) के पास एक ट्रेन में सीट शेयरिंग को लेकर हुए झगड़े में अपनी जान से हाथ धो बैठे थे।सोनी राजदान ने अपने अकाउंट पर जुनैद की तस्वीर शेयर करते हुए लिखा, ‘मैं जुनैद खान हूं, एक मुस्लिम लड़का, उम्र 15 साल। मुस्लिम होने के कारण, ट्रेन में भीड़ ने मुझे मार दिया। वोट देते समय मुझे याद रखें।’ सोनी के इस ट्वीट के बाद लोगों ने उन्हे जबरदस्त तरीके से ट्रोल करना शुरू कर दिया। यूजर्स ने ट्रोल करते हुए कहा था कि यह लड़ाई सीट के लिए हुई थी न कि किसी धर्म के कारण।

सोनी राजदान के इस फेक खबर के ट्वीट पर पायल रोहतगी ने कहा, ‘सोनी राजदान एक ब्रिटिश मुस्लिम महिला हैं, उनके पास तो भारत की नागरिकता भी नहीं है, वह तो मतदान भी कर सकती हैं, ऐसा ही हाल उनकी सुपरस्टार बेटी आलिया भट्ट का है, उनके पास भी भारतीय नागरिकता नहीं है। सोनी राजदान इस तरह की गलत जानकारी शेयर कर मासूम हिंदुओं को नफरत का मेसेज दे रही हैं।’

पायल के बाद सोनी राजदान को कंगना रनौत की बहन रंगोली चंदेल ने भी सोशल मीडिया पर आड़े हाथ लिया और लिखा, ‘यह गैर भारतीय जो अपने लोगों और सोर्सेस का उपयोग कर रहे हैं। यह लोग असहिष्णुता के बारे में झूठ और नफरत फैला रहे हैं। अब समय आ गया है, ऐसे लोगों के एजेंडे के बारे में सोचने का। उनके उकसाने पर नहीं आना है।’

खुद को ट्रोल होते देख आखिरकार सोनी राजदान ने भी अपनी चुप्पी तोड़ते हुए, पायल और रंगोली को जवाब देते हुए सोशल मीडिया पर लिखा, ‘लोगों से नफरत के खिलाफ वोट करने का आग्रह करने का नागरिकता से कोई लेना-देना नहीं है और यह सब जो मैं कर रही हूं, वह इंसान होने के नाते है। हम सबसे पहले इंसान हैं और हम जिस दुनिया में रहते हैं उसके नागरिक हैं। धर्मनिरपेक्षता और लोकतंत्र सैद्धांतिक मूल्य हैं, जो मेरे लिए खड़े हैं।’

Leave a Reply