भोपाल में 8 साल की बच्ची से दरिंदगी: आरोपी बोला- ‘मुझे गोली मार दो’

भोपाल में 8 साल की बच्ची से दरिंदगी: आरोपी बोला- ‘मुझे गोली मार दो’

- in भोपाल/ म.प्र
0

‘मुझे मारो…मुझे गोली मार दो। आप मुझे कुछ तो सजा दो। आप मुझे मारते क्यों नहीं…?’ ये शब्द हैं एक आरोपी के जिसे भोपाल पुलिस ने आठ साल की बच्ची का रेप और हत्या करने के आरोप में गिरफ्तार किया है। गिरफ्तारी के बाद पूछताछ के दौरान लगातार आरोपी मरने की बात कर रहा है। पुलिस ने उसकी मनोस्थिति को देखते हुए उसकी सुरक्षा बढ़ा दी है।

एसएचओ कमला नगर आलोक श्रीवास्तव ने बताया कि आरोपी बहुत तनाव में है। वह लगातार पुलिसवालों से खुद को पीटने और मारने की बात कह रहा है। वह कह रहा है कि उसे सजा दो। पुलिस ने बताया कि आरोपी की सूइसाइड टेंडेंसी (आत्महत्या करने की इच्छा रखने वाला) है। आरोपी पर खास निगरानी रखी जा रही है ताकि वह खुद को नुकसान न पहुंचाए।

शराब के नशे में धुत होकर बनाया बच्ची को निशाना
पुलिस ने बताया कि आरोपी ने अपना जुर्म कुबूल कर लिया है। उसने पुलिस को बताया, ‘मैंने घर में अपने लिए खाना बनाया और फिर शराब पीकर रात का खाना खाया। मैं खाना खाने के बाद घर के बाहर बैठा था। मैंने देखा कि बच्ची मेरे घर के बाहर से दुकान की तरफ जा रही है। मैं उसे देखता रहा। जब वह दुकान से वापस लौट रही थी तो मैंने उसे घर के अंदर खींच लिया।’

सोकर उठा तब हुआ अपराध का एहसास
आरोपी ने कहा, ‘मैं अपने होश में नहीं था। मैंने उसका मुंह दबाया और उसका रेप किया। वह होश में नहीं थी और मैं भी सो गया। जब मैं सोकर उठा तो मुझे एहसास हुआ कि मैंने क्या कर दिया। घर के बाहर देखा तो लोग बच्ची को ढूंढ रहे थे। मैं भी उनके साथ बच्ची को खोजने का नाटक करने लगा। जब सब थक कर आराम करने चले गए तो मैंने बच्ची की लाख उठाकर घर के पीछे बने नाले में फेंक दी।’

पकड़े जाने के डर से भागा
आरोपी विष्णु ने बताया कि उसे डर था कि वह पकड़ा जाएगा, इसलिए वह स्टेशन गया और वहां से ट्रेन पकड़कर इंदौर आ गया। इंदौर से मोरटक्का की बस पकड़कर वहां पहुंच गया। उसने कहा, ‘मेरी पत्नी भी मुझे छोड़कर अपने मायके में रहती है। मैं मरना चाहता था लेकिन आत्महत्या करने से पहले पुलिस ने मुझे पकड़ लिया।’

कोई वकील नहीं लड़ेगा आरोपी का केस
आरोपी विष्णु का केस कोई भी वकील नहीं लड़ेगा। भोपाल जिला कोर्ट बार असोसिएशन ने साफ कहा है कि कोई भी वकील आरोपी का केस नहीं लेगा। डीआईजी इरशाद वाली ने कहा कि कोर्ट में आरोपी पर किसी तरह का हमला न हो, इसलिए कड़ी सुरक्षा के बीच उसे कोर्ट ले जाया जाएगा। आरोपी के खिलाफ सभी सबूत इकट्ठा कर लिए गए हैं। सैंपल्स डीएनए भी जांच के लिए भेज दिए गए हैं। पुलिस बुधवार को आरोपी के खिलाफ चार्जशीट दाखिल कर देगी।

Leave a Reply