CBI ने खंगाला वो कमरा, जिसमें उन्नाव पीड़िता से हुआ गैंगरेप

CBI ने खंगाला वो कमरा, जिसमें उन्नाव पीड़िता से हुआ गैंगरेप

लखनऊ,

उन्नाव गैंगरेप रेप पीड़िता के पिता की हत्या और संदिग्ध सड़क हादसे की पड़ताल को लेकर रविवार को सीबीआई ने आरोपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के आवास व अन्य ठिकानों पर ताबड़तोड़ दबिशें दीं. इससे विधायक के समर्थकों में अफरा-तफरी मच गई.सीबीआई की छापेमारी से पूरे माखी गांव में हर तरफ सन्नाटा पसर गया. लगभग साढ़े 7 घंटे तक सीबीआई की टीम ने गांव में जांच-पड़ताल की. सूत्रों की मानें तो अधिकारियों ने विधायक आवास के कमरों की भी तलाशी ली.

वहीं तलाशी के दौरान टीम को एक फाइल भी मिली है जिससे सूत्र कई अहम सुराग हाथ लगने का दावा कर रहे हैं. सीबीआई की टीम ने माखी गांव में विधायक के आवास पर लगे सीसीटीवी भी खंगाले, जिसकी फुटेज की डीबीआर सीबीआई की टीम अपने साथ ले गई. टीम ने विधायक का वो कमरा भी खंगाला जिस कमरे में पीड़िता से गैंगरेप करने के आरोप लगे हैं.

उन्नाव रेप और एक्सीडेंट के मामले में सीबीआई ने रविवार को उत्तर प्रदेश के कई जिलों में छापेमारी की. छापेमारी किए जाने वाले जिलों में लखनऊ, सीतापुर, उन्नाव और बांदा मुख्य है. सीबीआई इन छापेमारी के जरिए उन तमाम सबूतों को इकट्ठा कर रही है जो यह यह साफ कर सकें कि रायबरेली में ट्रक और कार का एक्सीडेंट एक हादसा है या फिर कोई सोची-समझी साजिश.

सीबीआई की एक टीम सीतापुर की जेल में भी पहुंची, जहां पर इस मामले के मुख्य आरोपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर को बंद किया गया है. सीबीआई की टीम दिन में 12:30 बजे सीतापुर जेल पहुंची. वहीं करीब 3:30 बजे तक कुलदीप सिंह सेंगर व उसके साथ बंद अन्य महिला आरोपी और जेल अधिकारियों से भी पूछताछ की.

साथ ही सीबीआई ने जेल अधिकारियों से तमाम दस्तावेज जैसे कुलदीप सिंह सेंगर से मिलने वाले लोगों की लिस्ट और सीसीटीवी की मांग की. दूसरी तरफ सीबीआई की एक टीम ने उन्नाव के माखी गांव में सेंगर के घर पर भी छापेमारी की. सीबीआई की 10 लोगों की टीम ने मांखी गांव में सेंगर के घर के भीतर हर एक चीज की तलाशी ली. साथ ही सीबीआई ने घर में मौजूद लोगों और नौकरों से भी पूछताछ की.

Leave a Reply