पाकिस्तानी लड़कियों के लिए खतरा बने चीनी मर्द, चौंका देगी वजह

पाकिस्तानी लड़कियों के लिए खतरा बने चीनी मर्द, चौंका देगी वजह

पाकिस्तान भले ही चीन से रिश्ते मजबूत करने में जुटा हो, लेकिन पाकिस्तानी लड़कियों के लिए चीनी दूल्हे ख़तरा बन गए हैं. दरअसल, पाकिस्तानी सरकार ने बकायदा अपने देशवासियों को चीनी दूल्हों को लेकर चेतावनी जारी की है. गल्फ न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, चीनी मर्द पाकिस्तानी लड़कियों से फर्जी शादी करते हैं और फिर उन्हें देह व्यापार के धंधे में धकेल देते हैं.

बीते कुछ सालों से पाकिस्तान में शादी करके देह व्यापार में लड़कियों को ढकेलने के कई मामले सामने आए हैं. यही नहीं, पाक में मौजूद चीन दूतावास ने भी इसे लेकर बयान जारी किए हैं. चीनी दूतावास का कहना है कि पाकिस्तानी लड़कियां गैर-कानूनी मैचमेकिंग सेंटरों से शादी तय ना करें. क्योंकि ये सेंटर निजी फायदे के लिए चल रहे हैं और इससे पाकिस्तानी लड़कियों की जिंदगी खतरे में पड़ सकती है.

रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि पाकिस्तानी सरकार ने हाल ही में कुछ ऐसे फर्जी मैचमेकिंग सेंटरों पर कार्रवाई की है. इसमें यह सामने आया था कि मैचमेकिंग सेंटर के जरिए पाकिस्तान की गरीब ईसाई लड़कियों को निशाना बनाया जाता है. चीनी लड़के पाकिस्तान में काम करते हुए इन गरीब लड़कियों से शादी करते हैं. वो बकायदा शादी के फर्जी दस्तावेज बनाते हैं और खुद को ईसाई या मुस्लिम समुदाय का बताकर शादी कर लेते हैं

रिपोर्ट के अनुसार, चीनी लड़के पाकिस्तानी लड़कियों को शादी करके चीन ले जाते हैं और उन्हें नौकरी और आराम भरी जिंदगी के सपने दिखाते हैं.इसके बाद पैसों का ऑफर देकर उन्हें चीन ले जाते हैं. यहां लड़कियों को देह व्यापार और मानव तस्करी के दलदल में जबरदस्ती डाल दिया जाता है. कइयों को तो चीन से दूसरे देश तक ले जाकर सेक्स व्यापार करवाया जाता है.

मालूम हो कि चीन-पाकिस्तान इकनॉमिक कॉरिडोर को भले ही दोनों देशों ने व्यापार को बढ़ाने के लिए बनाया हो. लेकिन ये कॉरिडोर पाकिस्तान में रह रहे लोगों के लिए परेशानी बन गया है. २०१५ से कई चीनी नागरिक इस कॉरिडोर के बनने के बाद से पाकिस्तान में रह रहे हैं. इनमें से कुछ ने तो घर और संपत्तियां भी यहां खरीद ली हैं. लेकिन व्यापार के आड़ में कुछ लोग देह व्यापार और अंग तस्करी को भी यहां बढ़ावा दे रहे हैं.

रिपोर्ट्स के अनुसार, कुछ मामले सेक्स व्यापार के अलावा मानव अंगों की तस्करी के भी सामने आए हैं. मिडिल ईस्ट समेत कई देशों में पाकिस्तानी लड़कियों को अंग तस्करी के लिए भी इस्तेमाल किया गया. हालांकि, ऐसी घटनाओं के सामने आने के बाद अब पाकिस्तान और चीन दोनों ने ही सख्त कदम उठा रहे हैं दोनों सरकारों ने बकायदा नोटिस जारी करके कार्रवाई की है. आम लोगों के बीच भी जागरूकता फैलाई जा रही है.

Leave a Reply