मनमोहन पर टिप्पणी: राज्यसभा में गतिरोध खत्म होने के आसार

मनमोहन पर टिप्पणी: राज्यसभा में गतिरोध खत्म होने के आसार

- in राजनीति
0

नई दिल्ली

गुजरात चुनाव के दौरान पूर्व पीएम मनमोहन सिंह को लेकर दिए गए बयान के चलते संसद, खासकर राज्यसभा में जारी गतिरोध के खत्म होने के आसार दिखने लगे हैं। बुधवार को राज्यसभा में गतिरोध खत्म होने की संभावना है। सूत्रों के मुताबिक, बुधवार को पूर्व पीएम मनमोहन सिंह की विश्वसनीयता स्थापित करने से संबंधित प्रस्ताव राज्यसभा में लाया जा सकता है।

बताया जा रहा है कि यह प्रस्ताव सरकार की ओर से आएगा, जिसमें पूर्व पीएम के बारे में कुछ ऐसी बातें कही जाएंगी, जिससे उनकी विश्वसनीयता बहाल हो सके और उनको लेकर उठे सवालों को वापस लिया जाए। पूर्व पीएम के बारे में जब यह प्रस्ताव आएगा, उस समय पीएम नरेंद्र मोदी के भी मौजूद रहने की संभावना है। मनमोहन सिंह राज्यसभा के सदस्य हैं इसलिए यह प्रस्ताव राज्यसभा में लाने की योजना है।

सूत्रों के मुताबिक, इसे लेकर कांग्रेस आैर सरकार के बीच बात बन चुकी है। कांग्रेस की ओर से मांग की गई थी कि जब यह प्रस्ताव सदन में आए तो उस वक्त पीएम नरेंद्र मोदी भी सदन में मौजूद रहें, जिसे सरकार की ओर से मानने की बात कही जा रही है।

गौरतलब है कि गुजरात चुनाव के दौरान कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर के घर डिनर मीटिंग में पाकिस्तान के उच्चायुक्त और पूर्व विदेश मंत्री शामिल हुए थे। इस दौरान पूर्व पीएम मनमोहन सिंह, पूर्व वाइस प्रेजिडेंट हामिद अंसारी समेत कई नेता और पूर्व राजनयिक शामिल हुए थे। इस पर पीएम मोदी ने इन नेताओं पर पाक संग मिलकर गुजरात चुनावों को लेकर साजिश रचने का आरोप लगाया था। पीएम मोदी के बयान पर कांग्रेस ने कड़ी आपत्ति जाहिर की थी। संसद के शीतकालीन सत्र के शुरू होने से ही यह मुद्दा दोनों सदनों में गरमाया हुआ है।

Leave a Reply