IT रेड पर फिर CRPF और MP पुलिस में ठनी

IT रेड पर फिर CRPF और MP पुलिस में ठनी

- in भोपाल/ म.प्र
0

भोपाल

मध्य प्रदेश में पुलिस और केंद्रीय एजेंसियों के बीच टकराव मंगलवार को एक बार फिर देखने को मिली। यहां पिछले दो दिन से भोपाल में सीएम कमलनाथ के करीबियों और उनके सहयोगियों के ठिकानों पर आयकर विभाग की छापेमारी चल रही है। इस दौरान प्रदेश पुलिस और सीआरपीएफ अधिकारियों के बीच तनातनी हो गई। सीआरपीएफ का कहना है कि पुलिस अधिकारी उन्हें गाली दे रहे हैं।

सीआरपीएफ के एमएस वर्मा ने अश्विन शर्मा के घर पर चल रही छापेमारी पर कहा, ‘राज्य पुलिस को इस तरह के ऑपरेशन के बारे में अंदाजा नहीं था। एसएचओ इनसिक्योर हो गए होंगे, इसलिए उन्होंने हमसे पूछा कि बिना उनकी इजाजत के हम ऑपरेशन क्यों कर रहे हैं?’ मंगलवार को कमलनाथ के ओएसडी प्रवीण कक्कड़ के सहयोगी अश्विन शर्मा के घर पर आईटी रेड जारी है। यहां चीतल की खाल मिलने पर वन विभाग की टीम भी पहुंच गई है।

‘सीआरपीएफ को दी जा रही गालियां’
उन्होंने आगे कहा, ‘मैं उनसे यही कह सकता हूं कि यह अधिकार क्षेत्र की बात नहीं है। हम सरकारी आदेशों का पालन कर रहे हैं। मध्य प्रदेश पुलिस के एसएचओ चौहान और डीएसपी ने सीआरपीएफ के साथ बदसलूकी की और हमें गालियां दीं। चूंकि मामला अब उच्च स्तर पर चला गया है लेकिन अगर मुझसे पूछा जाता है तो मैं जरूर बताऊंगा।’

आयकर विभाग की छापेमारी की नहीं लग पाई भनक
इससे पहले रविवार को भी अश्विन शर्मा के घर पर छापेमारी के दौरान मध्य प्रदेश पुलिस और सीआरपीएफ जवान आमने-सामने आ गए थे। इस दौरान पुलिस की सीआरपीएफ के साथ नोंकझोंक भी हुई थी। आयकर विभाग की यह छापेमारी काफी गोपनीय थी। यहां तक कि मध्य प्रदेश के आयकर अधिकारियों को भी इसकी जानकारी नहीं दी गई थी। दिल्ली की टीम ने मध्य प्रदेश पुलिस की मदद न लेकर सीआरपीएफ को इस रेड में शामिल किया।

शर्मा के घर मिले जानवरों की खाल
आयकर विभाग मंगलवार को भी प्रवीण कक्कड़ के करीबी अश्विन शर्मा के घर छापेमारी कर रही है। शर्मा के घर छापेमारी में कई जानवरों के सींग और खालें बरामद हुई हैं। जानवरों की खाल की सूचना के बाद वन विभाग की टीम भी शर्मा के घर पहुंच गई है। कक्कड़ के सहयोगी अश्विन शर्मा के घर से काले हिरण, बाघ, हिरण, तेंदुआ, सांभर के सींग मिले हैं। इसके अलावा चीतल के रखने का ठिकाना भी मिला है। शर्मा के खिलाफ वाइल्डलाइफ प्रॉटेक्शन ऐक्ट के तहत कार्रवाई की जाएगी।

281 करोड़ के बेहिसाबी नकदी का चला पता
आयकर विभाग ने बताया कि छापों के दौरान करीब 281 करोड़ रुपये की बेहिसाबी नकदी का पता लगाया है। इस बड़ी कार्रवाई को आयकर विभाग के 300 अधिकारियों ने अंजाम दिया। इस दौरान चार राज्यों में 52 ठिकानों पर विभाग ने कार्रवाई की। केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) का कहना है कि नकदी का एक बड़ा हिस्सा दिल्ली में बड़े राजनीतिक दल के मुख्यालय तक भेजा जाना था। विभाग ने कमलनाथ के करीबी कक्कड़ के इंदौर और भोपाल स्थित घर तथा दफ्तर में भी छापे मारे।

Leave a Reply