बेटी से रेप और हत्या करने वाले पिता को फांसी की सज़ा

बेटी से रेप और हत्या करने वाले पिता को फांसी की सज़ा

- in भोपाल/ म.प्र
0

भोपाल

भोपाल के बहुचर्चित बरेला रेप और हत्याकांड में भोपाल की फास्ट कोर्ट ने मृतक बच्ची के पिता को दोषी करार देकर उसे फांसी की सज़ा सुनायी है. पिता ने अपनी 6 साल की बेटी के साथ रेप कर उसकी हत्या कर दी थी और फिर लाश को फांसी पर लटका दिया था. पुलिस के लिए ये बेहद उलझा हुआ केस था. डीएनए जांच से इस पूरे मामले का ख़ुलासा हुआ.

घटना 15 मार्च 2017 की है. दोषी करार दिए गए अफज़ल ने रेप के बाद बेटी की हत्या कर उसकी लाश को फांसी के फंदे पर लटका दिया था.फास्ट ट्रैक कोर्ट में मामले की सुनवाई हुई और ADJ कुमुदनी पटेल कोर्ट ने अफ़ज़ल को पॉस्को और हत्या केस में फांसी की सज़ा सुनाई.

पुलिस आखिरी मौके तक इस मामले को हादसा बताती रही. लेकिन सागर एफएसएल से आयी डीएनए रिपोर्ट में ख़ुलासा हुआ कि दरअसल ये हादसा नहीं हत्या का केस है. और हत्या से पहले 6 साल की बच्ची के साथ रेप किया गया था.

पुलिस ने इस केस में 5 लोगों के डीएनए सैंपल लेकर जांच के लिए भेजे थे. बच्ची के कपड़ों से उसके पिता अफजल की करतूत के नमूने मिले थे. डीएनए रिपोर्ट के बाद पुलिस ने आरोपी अफज़ल को गिरफ्तार किया था.

मामले की जांच में ये तथ्य सामने आए कि अफजल अपनी पत्नी के चरित्र पर शक़ करता था. वो ये मानने लगा था कि छह साल की बेटी उसकी नहीं है. इसलिए उसने अपनी ही बेटी का शोषण करना शुरू कर दिया था. जब उसे लगने लगा कि बेटी समझदार हो गई है और वह पिता की करतूत किसी को भी बता सकती है तो उसने पहले बच्ची से रेप किया और फिर उसकी हत्या कर दी. खुद को बचाने के लिए उसने बच्ची को फांसी के फंदे पर लटका दिया था.

मध्यप्रदेश में इस साल अब तक 21 मामलों में मौत की सज़ा सुनायी जा चुकी है. लैंगिक अपराधों में बरेला कांड का फैसला 19 वां मामला है. कोर्ट ने तमाम वैज्ञानिक साक्ष्यों के आधार पर दोषी पिता को फांसी की सज़ा सुनायी.

Leave a Reply