रामदेव के उत्पादों के खिलाफ फतवा जारी, गोमूत्र कोे बताया हराम

रामदेव के उत्पादों के खिलाफ फतवा जारी, गोमूत्र कोे बताया हराम

- in राष्ट्रीय
0

चेन्नई

Baba-Ramdev-300x200तमिलनाडु के एक मुस्लिम संगठन ने योग गुरू बाबा रामदेव के उन पतंजलि उत्पादों के खिलाफ ‘फतवा’ जारी किया है जो गाय के मूत्र से बनते हैं। संगठन का कहना है कि उनका प्रयोग इस्लाम में ‘हराम’ माना जाता है।  तमिलनाडु थोवीड जमात (टीएनटीजे) ने कहा कि पतंजलि के प्रसाधन, दवाओं और खाद्य उत्पादों में गाय के मूत्र का प्रयोग ‘मुख्य तत्व’ के रूप में किया जाता है जो खुले बाजार के साथ ही ऑनलाइन भी उपलब्ध है।

टीएनटीजे ने विज्ञप्ति जारी कर कहा कि मुस्लिमों की मान्यता के मुताबिक गाय का मूत्र हराम है जिसका प्रयोग नहीं किया जाना चाहिए। इसलिए टीएनटीजे फतवा जारी करता है कि पतंजलि के उत्पाद हराम हैं। इसने कहा कि फतवा यह सुनिश्चित करने के लिए जारी हो रहा है कि इस तरह के उत्पाद मुस्लिम उपयोग नहीं करें जो उत्पाद के तत्वों के बारे में जागरूकता की कमी के कारण रोजाना इसका उपयोग करते हैं।

Leave a Reply