भारत ने 22 रन से जीता दूसरा टी20, सीरीज पर भी कब्जा

भारत ने 22 रन से जीता दूसरा टी20, सीरीज पर भी कब्जा

- in खेल
0

लॉडरहिल

भारत ने वर्षा बाधित दूसरे टी20 इंटरनैशनल मैच में वेस्ट इंडीज को डकवर्थ लुइस नियम के तहत रविवार को 22 रन से हरा दिया। टीम इंडिया ने इस जीत के साथ ही सीरीज में 2-0 की अपराजेय बढ़त बना ली। भारत ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 20 ओवर में 5 विकेट पर 167 रन बनाए। इसके बाद वेस्ट इंडीज की पारी के 15.3 ओवर बाद बारिश आ गई। तब वेस्ट इंडीज का स्कोर 4 विकेट पर 98 रन था। इसके बाद मैच शुरू नहीं हो सका और भारत को डीएलएस के तहत विजेता घोषित किया गया।विराट कोहली की कप्तानी में खेल रही भारतीय टीम ने इसी मैदान पर पहले टी20 में 4 विकेट से जीत दर्ज की थी। सीरीज का तीसरी और अंतिम टी20 इंटरनैशनल मैच मंगलवार को गयाना में खेला जाएगा।

8 साल बाद जीती टी20 सीरीज
भारतीय टीम ने वेस्ट इंडीज के खिलाफ विदेश में 8 साल बाद सीरीज जीती। पिछली बार भारत ने 2011 में वेस्ट इंडीज में 1-0 से सीरीज जीती थी। दोनों टीमों के बीच अब तक कुल 13 टी20 मुकाबले खेले गए हैं। इनमें से भारतीय टीम ने 7 में जीत दर्ज की है, जबकि वेस्ट इंडीज को 5 मैचों में जीत मिली है। एक मुकाबले में नतीजा नहीं निकला।

अच्छी नहीं रही विंडीज की शुरुआत
168 रन के टारगेट का पीछा करने उतरी विंडीज टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही और उसके दोनों ओपनर 8 रन तक पविलियन लौट गए। पेसर भुवनेश्वर कुमार ने इविन लुइस (0) को अपनी ही गेंद पर लपका। विंडीज टीम के लिए ओपनिंग सुनील नरेन (4) ने की जो वॉशिंगटन सुंदर की गेंद पर बोल्ड हो गए।

पूरन और पॉवेल की अर्धशतकीय साझेदारी
दो विकेट जल्दी गिरने के बाद रोवमैन पॉवेल (54) और निकोलस पूरन (19) ने तीसरे विकेट के लिए 76 रन जोड़े। पूरन का हालांकि योगदान कम रहा लेकिन पॉवेल ने अपने टी20 इंटरनैशनल करियर का दूसरा अर्धशतक पूरा किया। उन्होंने 34 गेंदों की अपनी पारी में 6 चौके और 3 छक्के जड़े।पूरन ने 34 गेंदों में 1 चौके की मदद से 19 रन बनाए। दोनों को अपने एक ही ओवर में क्रुणाल पंड्या ने पविलियन भेजा। पारी का 16वां ओवर क्रुणाल पंड्या कर रहे थे और 3 गेंद शेष थीं कि तभी खराब मौसम के चलते मैच रोक दिया गया।

विंडीज टीम को मिला 168 का टारगेट
रोहित शर्मा के अर्धशतक की बदौलत भारत ने 5 विकेट पर 167 रन बनाए। रोहित ने 51 गेंदों पर छह चौकों और तीन छक्कों की मदद से 67 रन की पारी खेली। उन्होंने शिखर धवन (23) के साथ पहले विकेट के लिए 67 और कप्तान विराट कोहली (28) के साथ दूसरे विकेट के लिए 48 रन की साझेदारी की। क्रुणाल पंड्या ने भी अंत में 13 गेंद में नाबाद 20 रन बनाए।

रोहित का वर्ल्ड रेकॉर्ड
टीम इंडिया के उपकप्तान रोहित अपनी इस पारी के दौरान टी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में सर्वाधिक छक्के जड़ने वाले बल्लेबाज बने। उनके नाम पर अब 107 छक्के दर्ज हैं। उन्होंने वेस्ट इंडीज के क्रिस गेल (105) को पीछे छोड़ा। ओशाने थॉमस (27 रन पर 2 विकेट) और शेल्डन कॉटरेल (25 रन पर 2 विकेट) की तेज गेंदबाजी जोड़ी ने डेथ ओवरों में वेस्ट इंडीज को वापसी दिलाई लेकिन भारतीय टीम मजबूत स्कोर बनाने में सफल रही।

रोहित-धवन की ओपनिंग पार्टनरशिप
कोहली ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया जिसके बाद रोहित और शिखर धवन (23) ने पहले विकेट के लिए 67 रन जोड़कर टीम को अच्छी शुरुआत दिलाई। रोहित ने थॉमस की मैच की पहली गेंद पर चौके के साथ खाता खोला और फिर इस तेज गेंदबाज के अगले ओवर में भी चौका मारा। तेज गेंदबाज कीमो पॉल ने धवन को बोल्ड करके वेस्ट इंडीज को पहली सफलता दिलाई। धवन ने 16 गेंद का सामना करते हुए तीन चौके मारे।

भारत के सलामी बल्लेबाजों को वेस्ट इंडीज के गेंदबाजों का सामना करने में अधिक दिक्कत नहीं हुई। वेस्ट इंडीज के गेंदबाजों ने दिशाहीन गेंदबाजी भी की जिसका फायदा भारतीय बल्लेबाजों ने उठाया। रोहित ने छठे ओवर में कीमो पॉल पर पारी के पहले छक्के के साथ सर्वाधिक छक्कों के गेल के रेकॉर्ड की बराबरी की। भारत ने पावर प्ले में बिना विकेट खोए 52 रन बनाए।

रोहित का 17वां टी20 अर्धशतक
रोहित ने सुनील नरेन पर छक्के के साथ टी20 अंतरराष्ट्रीय फॉर्मेट में सर्वाधिक छक्के के गेल के रेकॉर्ड को तोड़ा और फिर इस ऑफ स्पिनर पर एक रन के साथ 40 गेंद में 17वां अर्धशतक पूरा किया। रोहित हालांकि इसी ओवर में भाग्यशाली रहे जब डीप मिडविकेट पर कॉटरेल ने उनका मुश्किल कैच टपका दिया।

कोहली ने बाएं हाथ के स्पिनर पियरे पर सीधा छक्का जड़कर तेवर दिखाए जबकि रोहित ने कप्तान ब्रैथवेट पर छक्के के साथ 13वें ओवर में टीम का स्कोर 100 रन के पार पहुंचाया। रोहित हालांकि अगले ओवर में थामस की गेंद को हवा में लहराकर शिमरोन हेटमायर को आसान कैच दे बैठे।

पंत और पांडे खास नहीं कर सके
ऋषभ पंत भी सिर्फ चार रन बनाने के बाद थॉमस की गेंद को थर्डमैन पर कायरन पोलार्ड के हाथों में खेल गए जबकि कॉटरेल ने कोहली को बोल्ड करके भारत को चौथा झटका दिया। कॉटरेल ने इसके बाद मनीष पांडे (6) को भी विकेटकीपर निकोलस पूरन के हाथों कैच कराया। क्रुणाल ने अंतिम ओवर में पॉल पर लगातार दो छक्कों के साथ 28 गेंद के बाउंड्री के सूखे को खत्म किया। रविंद्र जडेजा (9*) ने भी इस ओवर में छक्का मारा।

Leave a Reply