IPL: चेन्नै को 1 रन से हराकर मुंबई रेकॉर्ड चौथी बार चैंपियन

IPL: चेन्नै को 1 रन से हराकर मुंबई रेकॉर्ड चौथी बार चैंपियन

- in खेल
0

हैदराबाद

ओपनर रोहित शर्मा की कप्तानी वाली टीम मुंबई इंडियंस ने बेहद रोमांचक फाइनल में चेन्नै सुपर किंग्स को मात्र 1 रन से हराकर रेकॉर्ड चौथी बार आईपीएल चैंपियन बनने का गौरव हासिल किया। मुंबई इंडियंस ने पहले बल्लेबाजी करते हुए यहां राजीव गांधी इंटरनैशनल क्रिकेट स्टेडियम में 8 विकेट पर 149 रन बनाए। इसके बाद चेन्नै टीम शेन वॉटसन (80) की उम्दा पारी के बावजूद 7 विकेट पर 148 रन ही बना सकी।

जमे रहे शेन वॉटसन
150 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी चेन्नै टीम के लिए ओपनर शेन वॉटसन ने 59 गेंदों पर 8 चौके और 4 छक्के जड़े। अंतिम ओवर की चौथी गेंद पर वह रन आउट हुए और मैच यहीं से पलट गया। शार्दुल ठाकुर को अंतिम गेंद पर आउट कर लसिथ मलिंगा ने मुंबई को जीत दिला दी। वॉटसन एक छोर पर जमे रहे और उन्होंने 44 गेंदों पर चौके के साथ आईपीएल करियर का 19वां अर्धशतक पूरा किया। वह भाग्यशाली रहे और 3 बार उनके कैच मुंबई के खिलाड़ियों से छूटे। वॉटसन उन्होंने पिछले सीजन के फाइनल में सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ 17 रन की नाबाद शतकीय पारी खेली थी लेकिन इस बार वह टीम को जीत नहीं दिला सके।

चेन्नै को जल्दी लगा पहला झटका
चेन्नै सुपर किंग्स को पहला झटका पारी के चौथे ओवर में 33 के टीम स्कोर पर लगा और ओपनर फाफ डु प्लेसिस (26) को क्रुणाल पंड्या की गेंद पर क्विंटन डि कॉक ने स्टंप आउट कर दिया। डु प्लेसिस ने 13 गेंदों में 3 चौके और 1 छक्का जड़ा। पावरप्ले में चेन्नै ने 1 विकेट खोकर 53 रन बनाए।

जल्दी लौटे रैना, रायुडू और धोनी
सुरेश रैना कुछ खास नहीं कर सके और 14 गेंदों पर केवल 8 रन बनाकर राहुल चहर की गेंद पर पगबाधा आउट हो गए। उनके साथ शेन वॉटसन ने हालांकि दूसरे विकेट के लिए 37 रन जोड़े। अंबाती रायुडू (1) को जसप्रीत बुमराह ने विकेट के पीछे कैच कराया। इसके बाद कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (0) रन लेने के चक्कर में ईशान किशन के सीधे थ्रो पर रन आउट हो गए। चेन्नै के 4 विकेट 82 के स्कोर तक गिरे।

मुंबई को 149 पर रोका
तेज गेंदबाज दीपक चहर की अगुआई में गेंदबाजों के अच्छे प्रदर्शन से चेन्नै सुपर किंग्स ने मुंबई इंडियंस को 8 विकेट पर 149 रन ही बनाने दिए। कायरन पोलार्ड (41*) ने मुंबई की तरफ से सर्वाधिक रन बनाए जबकि क्विंटन डि कॉक ने 4 छक्कों की मदद से 29 रन बनाए लेकिन उनकी टीम ने नियमित अंतराल में विकेट गंवाए। चाहर ने 26 रन देकर 3 विकेट लिए जबकि इमरान ताहिर (23 रन देकर 2) और शार्दुल ठाकुर (37 रन देकर 2) ने भी अच्छी गेंदबाजी की।

पेसर दीपक चहर की इसलिए तारीफ करनी होगी क्योंकि डि कॉक ने उनके दूसरे ओवर में 3 छक्कों की मदद से 20 रन बटोरे थे लेकिन इस तेज गेंदबाज ने बाकी के 3 ओवर में केवल 6 रन दिए। इनमें पारी का 19वां ओवर में भी शामिल है जिसमें उन्होंने चार रन दिए।

रोहित ने चुनी बल्लेबाजी
मुंबई और चेन्नै के बीच इससे पहले खेले गए 3 आईपीएल फाइनल में पहले बल्लेबाजी करने वाली टीम विजयी रही और रोहित शर्मा ने भी टॉस जीतकर जब पहले बल्लेबाजी का फैसला किया तो किसी को हैरानी नहीं हुई।

पावरप्ले में मुंबई के दोनों सलामी बल्लेबाज पविलियन में विराजमान थे। शार्दुल ने डि कॉक को विकेटकीपर महेंद्र सिंह धोनी के हाथों कैच कराकर उनके तेवरों को ठंडा किया तो अगले ओवर में चहर ने रोहित को भी विकेट के पीछे कैच देने के लिए मजबूर किया। चाहर का यह ओवर मेडन रहा जिससे 6 ओवर के बाद मुंबई का स्कोर 2 विकेट पर 45 रन हो गया। डि कॉक ने 17 गेंदों की अपनी पारी में 4 छक्के लगाए जबकि रोहित ने 14 गेंदों पर 1 चौका और 1 छक्का जड़ा।

यादव और ईशान ने दिखाया संयम
सूर्यकुमार यादव (17 गेंदों पर 15 रन, 1 चौका) और युवा बल्लेबाज ईशान किशन (26 गेंदों पर 23 रन, 3 चौके) ने विकेट बचाने को तरजीह दी। दोनों ने तीसरे विकेट के लिए 37 रन जोड़े। बीच में 4 ओवर में केवल 13 रन बने। धोनी ने 12वें ओवर में ताहिर को गेंद सौंपी और उन्होंने दूसरी गेंद पर ही सूर्यकुमार को बोल्ड कर दिया जबकि ठाकुर ने नए बल्लेबाज क्रुणाल पंड्या (7) का अपनी ही गेंद पर दौड़ लगाकर लाजवाब कैच लपका।

कायरन पोलार्ड ने 15वें ओवर में ताहिर पर छक्का जड़कर टीम का स्कोर तिहरे अंक में पहुंचाया लेकिन साउथ अफ्रीकी लेग स्पिनर ने इसी ओवर में किशन को आउट कर आईपीएल 2019 में ‘पर्पल कैप’ अपने नाम पर तय की। यह ताहिर का 26वां विकेट था और उन्होंने हमवतन कागिसो रबाडा (12 मैचों में 25 विकेट) को पीछे छोड़ा। पोलार्ड ने 25 गेंदों की अपनी नाबाद पारी में 3 चौके और 3 छक्के जड़े।

अंतिम 2 ओवर में मुंबई ने गंवाए 3 विकेट
ऑलराउंडर हार्दिक पंड्या (10 गेंदों पर 16) जब 4 रन बनाकर खेल रहे थे तब सुरेश रैना ने उनका कैच छोड़ दिया। ठाकुर के इस ओवर में पोलार्ड और हार्दिक ने 1-1 छक्के की मदद से 16 रन बटोरे। चाहर ने हालांकि अगले ओवर में हार्दिक को पगबाधा आउट कर चेन्नै को राहत पहुंचाई। मुंबई ने अंतिम 2 ओवरों में केवल 13 रन बनाये और इस बीच 3 विकेट गंवाए। दीपक चहर ने 19वें ओवर की दूसरी गेंद पर हार्दिक को और चौथी गेंद पर भाई राहुल चाहर (0) को शिकार बनाया। फिर मिशेल मैक्लेनेगन (0) रन आउट हो गए।

Leave a Reply