IPL: राजस्थान को हरा टॉप पर पहुंचा केकेआर

IPL: राजस्थान को हरा टॉप पर पहुंचा केकेआर

- in खेल
0

जयपुर

गेंदबाजों के अनुशासित प्रदर्शन के बाद क्रिस लिन (50) और सुनील नरेन (47) से मिली शानदार शुरुआत के दम पर कोलकाता नाइटराइडर्स (KKR) ने राजस्थान रॉयल्स को यहां 8 विकेट से हरा दिया है। रविवार को खेले गए इस मैच में राजस्थान रॉयल्स ने पहले बैटिंग करते हुए मेहमान टीम के सामने 140 रन की चुनौती रखी थी। नाइटराइडर्स ने यहां मैच में 37 गेंद शेष रहते एकतरफा जीत दर्ज की।

राजस्थान रॉयल्स की टीम पहले बल्लेबाजी का न्योता पाने के बाद तीन विकेट पर 139 रन ही बना पाई। यह आईपीएल में पूरे 20 ओवर खेलकर 3 या इससे कम विकेट गंवाने के बाद सबसे न्यूनतम स्कोर है। स्टीव स्मिथ ने 59 गेंदों में नाबाद 73 रन बनाए, जिसमें 7 चौके और 1 छक्का शामिल है। उन्होंने जोस बटलर (34 गेंदों पर 37) के साथ दूसरे विकेट के लिए 72 रन की साझेदारी की। केकेआर ने केवल 13.5 ओवर में 2 विकेट पर 140 रन बनाकर आसान जीत दर्ज की और अपने रन रेट में भी सुधार किया।

लिन और नारायण ने पहले विकेट के लिये 91 रन जोड़कर जीत को औपचारिकता बना दिया। लिन ने 32 गेंदों पर 6 चौकों और 3 छक्कों की मदद से 50 जबकि नारायण ने 25 गेंदों पर 6 चौकों और 3 छक्कों की मदद से 47 रन बनाए। रॉबिन उथप्पा 16 गेंदों पर 26 रन और शुभमान गिल 6 रन बनाकर नाबाद रहे। केकेआर की यह 5 मैचों में चौथी जीत है और चेन्नै सुपरकिंग्स (CSK) से बेहतर रन गति के कारण वह अंकतालिका में भी शीर्ष पर पहुंच गया है। राजस्थान की यह 5 मैचों में चौथी हार है, जिससे उसके लिए आगे की राह कठिन हो गई है।

केकेआर ने कसी हुई गेंदबाजी करके रॉयल्स को खुलकर नहीं खेलने दिया। इसके चलते रॉयल्स की टीम ने बल्लेबाजों ने विकेट बचाए रखने पर अधिक ध्यान दिया। अपना पहला आईपीएल मैच खेल रहे बाएं हाथ के तेज गेंदबाज हैरी गर्नी ने 25 रन देकर 2 विकेट लिए। स्पिन त्रिमूर्ति सुनील नारायण (4 ओवर में 22 रन) पीयूष चावला (4 ओवर में 19 रन) और कुलदीप यादव (4 ओवर में 33 रन) ने रनों पर अंकुश लगाया। तेज गेंदबाज प्रसिद्ध कृष्णा (35 रन देकर 1) ने अगर बीच-बीच में ढीली गेंदें नहीं की होतीं तो उनका गेंदबाजी आंकड़ा भी बेहतर होता।

कप्तान दिनेश कार्तिक की भी तारीफ करनी होगी, जिन्होंने गेंदबाजी में रणनीतिक बदलाव किए। इसके विपरीत अंजिक्य रहाणे ने शुरू में ही नारायण के सामने कृष्णप्पा गौतम को गेंद सौंपने की गलती की। स्पिनरों के सामने अक्सर अच्छा प्रदर्शन करने वाले नारायण ने इस आफ स्पिनर के पारी के दूसरे ओवर में 4 चौकों और 1 छक्के की मदद से 23 रन बटोरे।

इस बीच भाग्य ने भी केकेआर का साथ दिया। धवल कुलकर्णी के ओवर में राहुल त्रिपाठी ने नारायण का आसान कैच छोड़ा, जबकि अगली गेंद ने लिन के विकेटों को चूमा लेकिन गिल्लियां नहीं गिरी। केकेआर ने पावरप्ले के छह ओवरों में 65 रन बनाकर एकतरफा जीत की नींव रखी। लिन ने नारायण का पूरा साथ दिया। जिस पिच पर रायल्स के बल्लेबाज रन बनाने के लिए जूझ रहे थे उस पर इन दोनों ने सहजता से रन बटोरे।

नारायण ने लेग स्पिनर सुधेशण मिथुन पर 2 छक्के लगाए लेकिन वह अर्धशतक पूरा नहीं कर पाए और एक अन्य लेग स्पिनर श्रेयस गोपाल की गुगली पर कट करने के प्रयास में स्लिप में कैच दे बैठे। लिन ने गोपाल को निशाने पर रखा और उन पर दो छक्के लगाए लेकिन अर्धशतक पूरा करने के तुरंत बाद इसी गेंदबाज ने उन्हें आसान कैच देने के लिये मजबूर किया। उथप्पा ने हालांकि गोपाल पर 2 छक्के जड़कर उनकी खुशी जल्द ही खत्म कर दी।

इससे पहले रायल्स ने रहाणे (5) का विकेट दूसरे ओवर में गंवा दिया। कृष्णा ने उन्हें गुड लेंथ गेंद पर LBW आउट किया। इसके बाद बटलर और स्मिथ ने पारी संवारने का बीड़ा उठाया लेकिन उन्हें रन बनाने के लिये जूझना पड़ा। रॉयल्स का स्कोर 10 ओवर के बाद एक विकेट पर 56 रन था। इसके बाद इन दोनों बल्लेबाजों ने इसे गति देने का प्रयास किया।

बटलर ने गर्नी पर डीप स्केअर लेग पर छक्का लगाया लेकिन अगली गेंद पर सीमा रेखा पर आसान कैच दे बैठे। इससे रन गति फिर से प्रभावित हो गई और रॉयल्स स्मिथ के कृष्णा पर लगाए गए 2 चौकों की मदद से 15वें ओवर में तिहरे अंक में पहुंच पाया। इसके बाद भी स्मिथ ने ही रन बनाने का जिम्मा संभाले रखा। राहुल त्रिपाठी (8 गेंदों पर 6 रन) और बेन स्टोक्स (14 गेंदों पर नाबाद 7) की लचर बल्लेबाजी के कारण रॉयल्स को नुकसान हुआ जो उसे महंगा आखिर में महंगा पड़ा।

Leave a Reply