जानें, क्यों अब एकता कपूर संग हुई कंगना रनौत की फाइट?

जानें, क्यों अब एकता कपूर संग हुई कंगना रनौत की फाइट?

- in ग्लैमर
0

बॉलिवुड की तेज-तर्रार, दबंग और अब कभी मेंटल’ तो कभी ‘जजमेंटल’ अभिनेत्री कंगना रनौत का विवादों से गहराता रिश्ता एक नया मोड़ ले रहा है। बॉलिवुड सितारों से ‘पंगा’ ले रहीं कंगना ने अब पत्रकारों को अपना निशाना बनाया है। शायद यही वजह है कि फिल्म मेकर एकता कपूर खुद भी कंगना को मेंटल कहती हैं। अपनी फिल्म ‘जजमेंटल है क्या’ के एक प्रमोशनल इवेंट पर कंगना का एक अलग रूप सामने आया है।

कंगना ने एक पत्रकार की सरेआम बेज्जती कर, उनपर कई आरोप भी लगाए, हालांकि पत्रकार ने कंगना के इन आरोपों को बेबुनियाद बताया है। अपनी फिल्म के प्रमोशनल इवेंट की धज्जियां उड़ती हुई देखने के बाद, एकता कपूर, मैडम कंगना से बेहद नाराज हैं। कंगना संग एकता की नाराजगी की एक बड़ी वजह यह भी है कि फिल्म के फाइनल कट को लेकर एकता और कंगना के बीच जमकर घमासान हुआ है।

अपना नाम न बताने की शर्त पर एक सूत्र ने बताया, ‘जब फिल्म का फाइनल एडिट हो रहा था तो कंगना और एकता के बीच जमकर कोल्ड वार चला। कंगना एडिट रूम में जातीं और एकता द्वारा एडिट किए गए अपने सीन वापस लगवातीं, ऐसा ही एकता करतीं, कंगना जो भी मनमानी करतीं, एकता उसे वापस ठीक करवातीं। एकता और कंगना की इस अनबोले तू-तू, मैं-मैं से एडिटर बेहद परेशान भी हो गए थे, लेकिन मामला ऐसा था कि कोई कुछ नहीं कर सकता था। एक तरफ फिल्म की निर्माता और दूसरी ओर कंगना की जिद। कंगना ने अपनी जिद और मनमानी से एकता की नाक में दम कर दिया था।’

सूत्र आगे कहते हैं, ‘कंगना और एकता की तनातनी की वजह से एडिटर को बेहद परेशानी होती थी। फिल्म का एडिट मुंबई के बांद्रा के एक स्टूडियो में किया जा रहा था। कंगना कभी अपने सीन को बढ़ातीं तो कभी अपनी एंट्री पर म्यूजिक चेंज करवातीं। बिना टाइम बताए कंगना कभी भी एडिट स्टूडियो में आ जाती थीं। इसकी वजह से किसी न किसी को एडिट में हर समय मौजूद रहना बहुत जरूरी हो गया था। उधर एकता फिल्म को अपने ढंग से बनाना चाहती थीं, जिसकी वजह से वह बार-बार कंगना द्वारा किए गए बदलाव को अपने मुताबिक ठीक करवाती थीं।’

फिल्म मकी शूटिंग के दौरान निर्देशक प्रकाश कोवलामुडी की हालत भी खराब हो गई थी। आपको बता दें, फिल्म ‘जजमेंटल है क्या’ के डायरेक्टर प्रकाश कोवलामुडी की पत्नी कनिका ढिल्लन ने ही ‘जजमेंटल है क्या’ की कहानी लिखी है, लेकिन सेट पर कंगना अपनी मनमर्जी करती थीं। सूत्र कहते हैं, ‘डायरेक्टर को चूहा बना कर रख दिया था, सेट पर डायरेक्टर की कोई भी बात, जिससे कंगना सहमत नहीं होती थीं, नहीं मानती थीं। कई बार सेट का माहौल ऐसा होता था, जब डायरेक्टर कंगना की फिल्म साइन करने को लेकर अपना सिर पीटते थे। लेखिका ढिल्लन भी बार-बार खुद की और हज्बंड की बेइज्जती का कड़वा घूंट पी रही थीं।,

खैर, अब तो फिल्म की रिलीज़ के बाद ही पता चलेगा कि फिल्म की एडिटिंग टेबल पर कंगना रनौत की चली या एकता की। फिल्म के प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान, जब डायरेक्टर और कंगना के बीच तनातनी को लेकर सवाल किया गया था तब निर्देशक ने कंगना संग काम करने को लेकर कोई भी नकारात्मक बात नहीं कही थी। फिल्म की लेखिका ने भी कंगना संग काम करने को अपनी उपलब्धि बताया था।

फिल्म की निर्माता एकता ने कंगना के साथ काम करने को लेकर अनुभव बताते हुए कहा, ‘कंगना मेंटल हैं, तभी तो उनके साथ काम कर रही हूं। मेंटल न होतीं तो काम नहीं हो पाता।’ फिलहाल फिल्म की पूरी टीम रिलीज़ को लेकर बेचैन है, बिना किसी बयान-बाजी और बवाल के फिल्म रिलीज़ करना टीम का पहला मकसद है।

Leave a Reply