निजी क्षेत्र में मातृत्व अवकाश 12 से बढ़ाकर 26 हफ्तों का होगा!

निजी क्षेत्र में मातृत्व अवकाश 12 से बढ़ाकर 26 हफ्तों का होगा!

- in अंतरराष्ट्रीय
0

नई दिल्ली

MOTHERकेन्द्र सरकार निजी क्षेत्र में कार्यरत महिलाओं के लिए मातृत्व अवकाश वर्तमान के 12 से बढ़ाकर 26 हफ्तों का करने पर विचार कर रही है। महिला एवं बाल विकास मंत्र मेनका गांधी ने बताया कि श्रम मंत्रालय भी मातृत्व अवकाश साढ़े छह माह का करने के लिए तैयार हो गया है।  केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि उन्होंने इस बारे में श्रम मंत्रालय को पत्र लिखकर कहा था कि बच्चों की देखभाल के लिए मातृत्व अवकाश के दिनों को बढ़ाया जाना जरूरी है।

सूत्रों के अनुसार श्रम मंत्रालय इस बारे में मातृत्व लाभ अधिनियम, 1961  में संशोधन करेगा। उधार, महिला एवं बाल विकास मंत्रालय से जुड़े अधिकारियों ने बताया कि वे निजी और सरकारी दोनों में कार्यरत महिलाओं के लिए मातृत्व अवकाश 8 माह अथवा 32 माह किए जाने के लिए कोशिश करेंगे।

महिला एवं बाल विकास मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि श्रम मंत्रालय ने सभी सम्बंधित पक्षों से विचार-विमर्श कर मातृत्व अवकाश साढ़े छह माह करने का निश्चय कर लिया है। इस अधिकारी ने कहा कि हालांकि हमारा मानना है कि महिलाओं को आठ माह का मातृत्व अवकाश दिया जाना चाहिए।  उल्लेखनीय है कि सरकारी महिला कार्मचारियों को सेन्ट्रल सिविल सर्विसेज कानूनों के अनुसार छह माह का मातृत्व अवकाश मिलता है।

Leave a Reply