एमपी के पूर्व सीएम पटवा का निधन, श्रद्धांजलि देने भोपाल आएंगे मोदी

एमपी के पूर्व सीएम पटवा का निधन, श्रद्धांजलि देने भोपाल आएंगे मोदी

- in भोपाल/ म.प्र
0

भोपाल

patwa_1-300x206भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री सुंदर लाल पटवा का निधन हो गया, वह 92 वर्ष के थे। पटवा को हार्टअटैक आया था, जिसके बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया, जहां उनका निधन हो गया। पटवा के निधन की खबर मिलते ही सीएम शिवराज सिंह चौहान अस्पताल पहुंचे। उनके पार्थिव शरीर को भोपाल स्थित बीजेपी आॅफिस में रखा जाएगा। देर शाम उनके पार्थिव शरीर को नीमच भेजा जाएगा, जहां गुरुवार दोपहर 2 बजे उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा।पीएम मोदी भी पटवा को श्रद्धांजलि देने आज दोपहर भोपाल पहुंच रहे हैं। पटवा की पत्नी का कुछ साल पहले ही निधन हो गया था। उनके कोई संतान नहीं है। उनके भतीजे सुरेंद्र पटवा राज्य की बीजेपी सरकार में संस्कृति एव पर्यटन मंत्री हैं।

भोपाल स्थित बंसल हॉस्पिटल के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर डॉ. स्कंद त्रिवेदी ने बताया कि पटवा को बुधवार सुबह हार्ट अटैक आया और उन्हें तत्काल अस्पताल ले जाया गया, जहां उनका निधन हो गया. मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान उनके निधन का समाचार सुनने के बाद तत्काल अस्पताल पहुंच गए। बाद में उन्होंने पटवा को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि उन्होंने मध्य प्रदेश के विकास के लिए लंबे समय तक योगदान किया और उनके निधन से राज्य को अपूर्णीय क्षति हुई है. पटवा के निधन पर राज्य सरकार ने तीन दिन के राजकीय शोक की घोषणा की है। इसके चलते तीन दिन तक सरकारी इमारतों पर राष्ट्रीय ध्वज आधे झुके रहेंगे, सरकारी स्तर पर सांस्कृतिक कार्यक्रम नहीं होंगे।

11 नवंबर 1924 को जन्मे पटवा मध्य प्रदेश के दो बार मुख्यमंत्री रहे। पहले 1980 में वह एक महीने से भी कम समय तक मुख्यमंत्री रह पाए थे, लेकिन इसके बाद राम मंदिर लहर में सत्ता में वापस आने के बाद वह मार्च 1990 में फिर से मुख्यमंत्री बनाए गए. हालांकि इस बार भी वह महज दो साल तक सत्ता में रह पाए, क्योंकि 1992 में बाबरी मस्जिद के ढहाए जाने के बाद प्रदेश में राष्ट्रपति शासन लागू कर दिया गया. वह 1997 में लोकसभा के लिए हुए उप-चुनाव में कांग्रेस के दिग्गज नेता कमलनाथ को हराकर छिंदवाड़ा से सांसद बने। वर्ष 1999 के आम चुनावों में पटवा फिर होशंगाबाद लोकसभा सीट से विजयी हुए और उन्हें केंद्र की अटल बिहारी वाजपेयी सरकार में मंत्री बनाया गया।

पटवा कठिन परिश्रमी एवं समर्पित नेता थे: मोदी
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने वरिष्ठ भाजपा नेता एवं मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री सुंदरलाल पटवा के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए कहा कि वह ‘कठिन परिश्रमी एवं समर्पित’ नेता थे। दिवंगत नेता को श्रद्धांजलि देते हुए मोदी ने ट्विटर पर लिखा, ‘‘मैं सुंदरलाल पटवा के निधन से दुखी हूं। वह परिश्रमी एवं समर्पित नेता थे। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री के रूप में किये गये उनके अच्छे कार्यो को सदा याद रखा जाएगा। मोदी ने यह भी कहा कि पटवा ने भाजपा को मजबूत बनाने में अहम भूमिका निभाई और पार्टी कार्यकर्ताओं ने हमेशा उनकी तारीफ की।
प्रधानमंत्री ने ट्वीट किया, मेरी सहानुभूति उनके परिजन के साथ है। भगवान उनकी आत्मा को शांति दे। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने शोक व्यक्त करते हुए ट्वीट किया कि पटवा ने जनसंघ से लेकर भाजपा तक विभिन्न जिम्मेदारियां निभाई। उनकी कड़ी मेहनत एवं समर्पण हमारे कार्यकर्ताओं को हमेशा प्रेरित करती रहेगी। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के महासचिव दिग्विजय सिंह ने भी पटवा को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि यह राज्य के लिए ‘अपूरणीय क्षति’ है। उन्होंने कहा, पटवा जी निडर एवं कठिन परिश्रम करने वाले नेता थे।

Leave a Reply