मुंबई डबल मर्डर: हेमा के पति चिंतन उपाध्याय ने उगले कई राज

मुंबई डबल मर्डर: हेमा के पति चिंतन उपाध्याय ने उगले कई राज

मुंबई

hemaकलाकार चिंतन उपाध्याय ने 4 करोड़ रुपए वाले जुहू स्थित फ्लैट के विवाद में पत्नी हेमा उपाध्याय और उसके वकील हरीश भंबानी की हत्या करवाई। उसने मुख्य आरोपी विद्याधर राजभर को दोनों की हत्या की सुपारी दी थी। पुलिस की पूछताछ में चिंतन ने हेमा और उसके वकील हरीश की हत्या से जुड़े कई अहम राज उगले हैं।

चिंतन ने उगले कई राज
पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, चिंतन हेमा से शादी करने के बाद मुंबई आया तो उसने जुहू में फ्लैट खरीदा था। यह फ्लैट दोनों के नाम से था। दोनों के बीच तनाव बढ़ा तो बात तलाक तक पहुंच गई।
हेमा ने कोर्ट में तलाक के साथ ही चिंतन से 1 लाख रुपए हर्जाना भी मांगा था। कोर्ट ने हेमा को 40 हजार रुपए हर्जाना तय किया था। कोर्ट ने जुहू के फ्लैट में दोनों को रहने की इजाजत भी दी थी, लेकिन हेमा ने फ्लैट पर कब्जा कर रखा था।
हेमा ने फ्लैट में दो नौकर और दो कुत्ते रखे थे, जो चिंतन के लिए परेशानी के सबब बने हुए थे। चिंतन जब फ्लैट में रहने के लिए जाता था तो उस पर कुत्ते भौंकते थे। सन् 2009 से हेमा जुहू के फ्लैट में रहती थी, जबकि चिंतन अधिकतर जयपुर में ही रहता था।
हेमा ने ठोंका था फ्लैट पर दावा
मुंबई आने पर चिंतन जब फ्लैट में रहने के लिए जाता था तो उसका हेमा के साथ झगड़ा होता था। चिंतन हेमा के झगड़े और मुकदमें से परेशान हो गया था। वह उससे किसी भी तरह से छुटकारा पाना चाहता था। उसने हेमा के सामने जुहू का फ्लैट बेचकर पैसे बराबर-बराबर बांटने का प्रस्ताव रखा था, लेकिन हेमा ने इंकार कर दिया और उसने पूरे फ्लैट पर ही अपना दावा ठोंक दिया।
हरीश को भी मारने का था निर्देश
चिंतन ने हेमा को ठिकाने लगाने का निश्चय किया। उसने अपने पारिवारिक परिचित विद्याधर को हेमा के हत्या की सुपारी दी। चिंतन ने विद्याधर को हेमा के साथ उसके वकील हरीश को भी ठिकाने लगाने का निर्देश दिया था। चिंतन को शक था कि हेमा को वकील हरीश ही उसे परेशान करने की सलाह देता था।

Leave a Reply