निजी कार रोड पर है तो वह पब्लिक प्लेस माना जाएगा: सुप्रीम कोर्ट

निजी कार रोड पर है तो वह पब्लिक प्लेस माना जाएगा: सुप्रीम कोर्ट

- in राष्ट्रीय
0

नई दिल्ली

अगर पब्लिक रोड पर कोई आदमी प्राइवेट कार में जा रहा हो तो भी वह पब्लिक प्लेस ही माना जाएगा। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि प्राइवेट कार में लोगों की पहुंच नहीं हो सकती, क्योंकि ये प्राइवेट वाहन में बैठे लोगों का अधिकार है लेकिन पब्लिक रोड पर चलने वाली प्राइवेट गाड़ी पब्लिक प्लेस है और उसे अप्रोच किया जा सकता है। अदालत ने बिहार के एक मामले में शराब पीकर गाड़ी में चलने या ड्राइव करने पर पुलिस की कार्रवाई को सही माना है।

सुप्रीम कोर्ट का यह आदेश पटना हाई कोर्ट के आदेश के खिलाफ दाखिल अर्जी पर सुनवाई के दौरान आया। याचिकाकर्ता ने बिहार के एक्साइज ऐक्ट के प्रावधान को चुनौती दी थी। इस कानून के तहत याचिकाकर्ता के खिलाफ संज्ञान लिया गया था जिसे खारिज करने की मांग पटना हाई कोर्ट ने ठुकरा दी थी। इसके बाद मामला सुप्रीम कोर्ट के सामने आया।

याचिकाकर्ता कुछ लोगों के साथ 25 जून, 2016 को पटना से झारखंड के गिरडीह जा रहे थे। बिहार के नवादा जिले में एक पुलिस चौकी पर उनका वाहन चेकिंग के तहत रोका गया। जांच में पाया गया कि वे नशे में थे। वैसे वाहन में शराब की कोई बोतल नहीं थी। पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया। कुछ दिन जेल में भी रहे। बिहार में शराबबंदी लागू है।

उन लोगों ने मैजिस्ट्रेट के आदेश को पटना हाई कोर्ट में चुनौती दी थी। पटना हाई कोर्ट ने मैजिस्ट्रेट के आदेश को दरकिनार करने की मांग संबंधी उनकी अर्जी खारिज कर दी। मैजिस्ट्रेट ने उनकी इस हरकत (शराब पीकर सफर करने को) बिहार आबकारी (संशोधन) अधिनियम, 2016 के तहत दंडनीय अपराध के रूप में संज्ञान लिया था।

Leave a Reply