गुजरात के वडोदरा में बारिश ने मचाई तबाही, स्कूल बंद करना पड़ा

गुजरात के वडोदरा में बारिश ने मचाई तबाही, स्कूल बंद करना पड़ा

नई दिल्ली,

गुजरात के वडोदरा में बुधवार को मूसलाधार बारिश से आम लोगों का जनजीवन बुरी तरह प्रभावित हो गया. वडोदरा में 14 घंटे में 18 इंच बारिश दर्ज की गई. इससे सड़कों पर पानी भर गया है, जिससे लोगों को आने-जाने में मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है. जलभराव के चलते लोगों के वाहन सड़कों में फंस गए हैं. इस बारिश के चलते वडोदरा के जिला कलेक्टर ने सभी सरकारी, प्राइवेट और वीएमसी के स्कूलों को गुरुवार को बंद करने का आदेश दिया है.

जहां इस मूसलाधार बारिश ने एक ओर लोगों की मुश्किलें बढ़ी हैं, तो दूसरी ओर इससे वडोदरा के लोगों को गर्मी से बड़ी राहत मिली है. वहीं, मौसम विभाग ने जम्मू-कश्मीर में अगले कुछ दिनों तक मूसलाधार बारिश होने का पूर्वानुमान जताया है. इस दौरान भूस्खलन और जम्मू-श्रीनगर हाइवे पर पत्थर गिरने की आशंका जताई जा रही है सूबे के रामबन और बनिहाल के बीच भूस्खलन की सबसे ज्यादा आशंका जताई जा रही है. इसके अलावा उधमपुर जिले में बारिश से दो घर ढह गए, जिसमें 12 लोग घायल हो गए और एक नाबालिग की मौत हो गई.

वहीं, मौसम विभाग का कहना है कि इस बार जुलाई महीने में पूरे देश में सामान्य से ज्यादा बारिश हुई. साथ ही अगले पांच दिनों तक देश के कई हिस्सों में अच्छी बारिश का पूर्वानुमान है. मौसम विभाग का कहना है कि जुलाई की शुरुआत तक देश के 23 फीसदी हिस्से में बारिश हुई थी, लेकिन अगस्त के आखिर तक 99 फीसदी हिस्से को कवर किया गया.

मौसम विभाग के मुताबिक जुलाई में बारिश ने मुंबई, ठाणे और पुणे के 112 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया. मुंबई में जुलाई में 1908 से सबसे ज्यादा बारिश दर्ज की गई. इसके अलावा ठाणे और पुणे में 1901 के बाद से सबसे ज्यादा बारिश रिकॉर्ड की गई. इसके साथ ही मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, गुजरात, छत्तीसगढ़, तेलंगान और नगालैंड में गुरुवार को भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई.

Leave a Reply