पटेल को याद कर मोदी बोले, देश में दो पीएम न सरदार साहब को मंजूर थे, न हमें

पटेल को याद कर मोदी बोले, देश में दो पीएम न सरदार साहब को मंजूर थे, न हमें

सोनगढ़

बुधवार को दक्षिण गुजरात के आदिवासी बहुल तापी जिले के सोनगढ़ में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने भाषण की शुरुआत कांग्रेस पर हमले से की। कश्‍मीर मुद्दे पर कांग्रेस की नीति की आलोचना करते हुए मोदी बोले, ‘कश्‍मीर के एक नेता कहते हैं देश में दो प्रधानमंत्री होने चाहिए, यह बात आपको भी मंजूर नहीं और सरदार साहब को भी मंजूर नहीं थी। आज हालत यह है कि कश्‍मीर में जवानों का बलिदान नित्‍य क्रम बन गया है।’

सरदार पटेल को किया याद
अपने भाषण की शुरूआत में मोदी ने सरदार पटेल को याद करते हुए कहा, ‘दक्षिण गुजरात में आकर सरदार साहब की याद आती है। सरदार साहब ने जो रास्‍ता दिखाया था उसे अपनाया होता तो देश कहां से कहां पहुंच गया होता। लेकिन दुर्भाग्‍य है कि कांग्रेस ने उसे छोड़ दिया।’

सरदार पटेल की नीति का जिक्र करते हुए मोदी ने कहा, ‘सरदार पटेल के कारण हम जूनागढ़ का गुजरात में विलय करा पाए। लेकिन पंडित जवाहरलाल नेहरू ने जम्‍मू-कश्‍मीर के विषय को अपने पास रखा, जिसका परिणाम हम आज भी भुगत रहे हैं।’ कांग्रेस के घोषणापत्र को फिर से ढकोसला पत्र बताते हुए मोदी ने कहा, ‘अगर आज सरदार पटेल होते तो वो कांग्रेस के ढकोसला पत्र को बिल्कुल भी स्वीकार नहीं करते।’

‘मोदी गरीबी हटाने की बात करता है…’
मोदी ने कहा, ‘कांग्रेस मोदी हटाने की बात करती है और मोदी गरीबी हटाने की बात करता है।’ मोदी ने सरदार पटेल की विचाराधार और कांग्रेस की नीतियों में अंतर दिखाकर कांग्रेस की जमकर आलोचना की।

‘तुगलक रोड घोटाला’
मध्‍य प्रदेश में हाल ही में आयकर विभाग के छापों का जिक्र करते हुए मोदी ने कांग्रेस पर घोटालों का आरोप लगाते हुए कहा, ‘कांग्रेस के घोटालों में एक नया घोटाला सबूतों के साथ और जुड़ गया है। वह है तुगलक रोड चुनावी घोटाला। और देश ये भी जानता है कि तुगलक रोड पर कौन रहता है।’ आयुष्‍मान भारत योजना को अपनी उपलब्धि बताते हुए मोदी ने कहा, ‘हम दुनिया की सबसे बड़ी स्वास्थ्य योजना को देश के मध्यम और गरीब परिवारों तक ले आए। इस योजना से देश के 50 करोड़ लोग लाभान्वित होंगे।’

Leave a Reply