खुलासा: प्रेमिका से बात करने से मना करने पर बेटे ने ही मार दी थी मां को गोली

खुलासा: प्रेमिका से बात करने से मना करने पर बेटे ने ही मार दी थी मां को गोली

- in भोपाल/ म.प्र
0

भोपाल

shoot_murder_20_12_2016-300x225भाजपा नेत्री 48 वर्षीय जमीला बी की हत्या उन्हीं के 20 वर्षीय बेटे अमन ने की थी। मृतिका का कसूर सिर्फ इतना था कि उसने बेटे को प्रेमिका से फोन पर बात करते हुए पकड़ लिया था। मां के नाराजगी जताने पर अमन ने उन्हें गोली मार दी। यह खुलासा मंगलवार को एसपी नॉर्थ अरविंद सक्सेना ने किया। पुलिस ने आरोपी के कब्जे से हथियार भी बरामद कर लिया है। एसपी ने गौतम नगर पुलिस और क्राइम ब्रांच की टीम को हत्याकांड का खुलासा करने के लिए 10 हजार रुपए का इनाम देने की घोषणा की है ।

टीआई गौतम नगर मुख्तार कुरैशी के अनुसार गत 30 नवंबर को भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चे की नेत्री 48 वर्षीय जमीला बी पति रहमान की संदिग्ध परिस्थितियों में गोली लगने से मौत हो गई थी। पुलिस ने मामले की जांच के दौरान बेटे को संदेह के घेरे में लिया था।

पूछताछ के बाद बेटे समेत अन्य लोगों के हाथ की स्किन के कुछ नमूने फोरेंसिक जांच के लिए सागर भेजे गए थे। सोमवार को जांच रिपोर्ट पुलिस को मिल गई। इसमें बताया गया कि मृतका के शरीर से मिली गोली और आरोपी के हाथ से मिले गन पाउडर एक ही है।

पुलिस ने रिपोर्ट के आधार पर अमन को हिरासत पर लेकर पूछताछ तो उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया। उसने बताया कि घटना की दोपहर वह अपनी प्रेमिका से फोन पर बात कर रहा था। इसी दौरान मां वहां पहुंच गई। उनके बीच इसको लेकर जमकर विवाद हुआ। वह मुझ पर उनकी मर्जी से शादी करने का दबाव डाल रही थी।

मैंने उन्हें रास्ते से हटाने के लिए उन पर घर में रखी बंदूक तान दी। मां ने बचने के लिए दरवाजे की तरफ दौड़ लगाई, तो मैंने गोली चला दी। गोली लगते ही वे जमीन पर गिर पड़ी। उनकी मौत होने के कारण मैंने फर्श से खून के धब्बे साफ कर आसपास के लोगों को बताया कि मां को करंट लग गया है। इसके बाद हम उन्हें अस्पताल ले आया। पुलिस ने अमन की निशानदेही पर हत्या में प्रयोग किया गया कट्टा भी बरामद कर लिया है।

अमन पर शक होने के प्रमुख कारण
-अमन घटना के 5 घंटे के अंदर ही 3 बार बयान बदल चुका था।
-कोई करीबी ही इतने करीब से गोली मार सकता था।
-घटना के पहले और बाद में किसी के भी आस-पास नहीं होने की पुष्टि नहीं होना।
-हथियार और खून का घटना स्थल पर नहीं पाया जाना।

Leave a Reply