ब्रह्मांड के रहस्‍यों को बताने वाले वैज्ञानिक स्‍टीफन हॉकिंग का निधन

ब्रह्मांड के रहस्‍यों को बताने वाले वैज्ञानिक स्‍टीफन हॉकिंग का निधन

ब्रह्मांड के रहस्‍यों को बताने वाले वैज्ञानिक स्‍टीफन हॉकिंग का निधन हो गया है. वह 76 साल के थे. उनके निधन की जानकारी उनके घरवालों ने दी. स्टीफ़न हॉकिंग का जन्म 8 जनवरी 1942 को फ्रेंक और इसाबेल हॉकिंग के घर में हुआ. परिवार वित्तीय बाधाओं के बावजूद, माता पिता दोनों की शिक्षा ऑक्‍सफोर्ड विश्‍वविद्यालय में की. जहाँ फ्रेंक ने आयुर्विज्ञान की शिक्षा प्राप्‍त की.और इसाबेल ने दर्शनशास्त्र, राजनीति और अर्थशास्त्र का अध्ययन किया. अब दुनिया के फेमस वैज्ञानिक स्‍टीफन हॉकिंग ने वो राज खोला है, जिसे पूरी दुनिया बरसों से जानता चाहती है. स्‍टीफन हॉकिंग ने हाल ही में बिगबैंग के पहले के संसार के बारे में कुछ ऐसा बताया है, जिसे जानकर विज्ञान भी अचंभित हैं.हॉकिंग के बच्चों लूसी, रॉबर्ट और टिम ने अपने बयान में कहा, ‘हम अपने पिता के जाने से बेहद दुखी हैं।’

स्टीफन हॉकिंग ने ब्लैक होल और बिग बैंग सिद्धांत को समझने में अहम योगदान दिया है। उनके पास 12 मानद डिग्रियां हैं। हॉकिंग के कार्य को देखते हुए अमेरिका का सबसे उच्च नागरिक सम्मान उन्हें दिया जा चुका है। ब्रह्मांड के रहस्यों पर उनकी कितानब ‘अ ब्रीफ हिस्ट्री ऑफ टाइम’ काफी चर्चित हुई थी।

Leave a Reply