छात्रों को मर्डर की सीख, VC से जवाब-तलब, बयान पर कुलपति कायम

छात्रों को मर्डर की सीख, VC से जवाब-तलब, बयान पर कुलपति कायम

वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय के कुलपति प्रफेसर राजाराम यादव ने गाजीपुर जिले में एक कार्यक्रम के दौरान कहा कि पूर्वांचल विश्वविद्यालय के छात्र हो तो पिटकर नहीं, पीटकर आना, मर्डर करके आना। यह विडियो वायरल होने के बाद निशाने पर आए कुलपति ने रविवार को मीडिया पर अपने बयान को तोड़-मरोड़ करके पेश करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा इस बयान के पीछे उनका उद्देश्य बच्चों का हौसला बढ़ाना था। उत्तर प्रदेश सरकार ने उनसे बयान पर स्पष्टीकरण मांगा है।

गौरतलब है गाजीपुर के एक महाविद्यालय में छात्रों को संबोधित करने के दौरान कुलपति प्रफेसर राजाराम यादव ने यह बयान दिया था। सफाई देते हुए उन्होंने कहा, ‘मैं छात्रों के अंदर उत्साह-संवेदना जगाने के साथ उन्हें किसी लक्ष्य की प्राप्ति के लिए बहादुर बनाने के उद्देश्य से साहित्यिक जोश भर रहा था। मैंने छात्रों को बहादुर बनने का तर्क दिया कि किसी छात्र को कहीं भी, कोई भी समस्या होती है, अगर वह गलत नहीं है तो उस हालत में लड़ना भी गलत नहीं होगा। अपने अधिकारों के लिए पीछे नहीं हटना चाहिए।’ उन्होंने कहा, ‘बुराइयों का नाश करने के लिए मर्डर करने जैसी स्थिति हो, ऐसे में छात्र डिगे नहीं, पीछे हटे नहीं।’

कुलपति प्रफेसर राजाराम यादव ने कहा कि मेरे बयानों को तोड़ मरोड़ कर पेश करना गलत है। उन्होंने कहा कि मीडिया शुरू से लेकर अंत तक बयानों को सुनेगा तो उसका सीधा मतलब समझ में आ जाएगा। उन्होंने कहा, ‘जैसे कवि और साहित्यकार अपने बयान में लोगों पर तंज कसते रहते हैं। मेरा उसी तरह छात्रों पर उद्देश्य था। साहित्यिक वीर रस से सराबोर सम्बोधन मैंने छात्रों के हौसला अफजाई के लिए दिया। वह एक तंज था, उस बयान को सीधा मर्डर से जोड़ना मेरी तनिक भी मंशा नहीं थी। उसे गंभीरता से पेश किया जाना सरासर गलत है।’

कुलपति ने कहा, ‘बयान पर अटल’
साथ ही कुलपति ने कहा, ‘मैं आज भी अटल हूं और छात्रों को विषम परिस्थितियों में बहादुर बनाने के लिए जोश भरता रहूंगा। ताकि वे शिक्षा के प्रति युद्ध जैसे हालात पर अपने को तैयार कर सकें।’ बता दें, इससे पहले उत्तर प्रदेश सरकार में मंत्री और भारतीय जनता पार्टी के नेता सिद्धार्थनाथ सिंह ने कुलपति के बयान पर नाराजगी जताई है और कहा है कि ऐसे वीसी को अपने पद पर बने रहने का कोई अधिकार नहीं है।

प्रदेश सरकार ने मांगा जवाब
उत्तर प्रदेश सरकार ने अपने छात्रों को ‘मर्डर’ करके आने की सीख देने के मामले में पूर्वांचल विश्वविद्यालय के कुलपति से अपना पक्ष रखने को कहा है। राज्य के उप मुख्यमंत्री और उच्च शिक्षा मंत्री डॉक्टर दिनेश शर्मा ने कहा कि उन्होंने पूर्वांचल विश्वविद्यालय के कुलपति प्रफेसर राजा राम यादव से बयान पर अपना पक्ष रखने को कहा है। यादव के बयान पर तरह-तरह की प्रतिक्रियाएं व्यक्त की जा रही हैं। एसपी मुखिया अखिलेश यादव ने कहा कि पूर्वांचल विश्वविद्यालय के कुलपति शायद मुख्यमंत्री की ‘ठोको’ वाली भाषा सीखकर बोल रहे हैं।

Leave a Reply