सुषमा स्वराज का निधन मेरी निजी क्षति: PM मोदी

सुषमा स्वराज का निधन मेरी निजी क्षति: PM मोदी

- in राष्ट्रीय
0

नई दिल्ली

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के निधन पर शोक जताते हुए इसे अपनी निजी क्षति बताया है। उन्होंने कहा कि इसके साथ ही भारतीय राजनीति का एक गौरवशाली अध्याय समाप्त हो गया है। प्रधानमंत्री ने कहा कि सुषमा स्वराज देश के लिए किए गए अपने काम के लिए हमेशा याद रखीं जाएंगी।
‘भारतीय राजनीति का एक गौरवशाली अध्याय खत्म हो गया। एक ऐसी नेता जिन्होंने जन सेवा और गरीबों का जीवन संवारने के लिए अपनी जिंदगी समर्पित कर दी, उनके निधन पर भारत दुखी है। सुषमा स्वराज जी अपनी तरह की इकलौती नेता थीं, वह करोड़ों लोगों के लिए प्रेरणा की स्रोत थीं।’

पीएम ने सुषमा को याद करते हुए लिखा, ‘सुषमा जी एक प्रखर वक्ता और उत्कृष्ट सांसद थीं। उन्हें पार्टी सभी पार्टियों से प्रशंसा और सम्मान मिला। जब विचारधारा और बीजेपी के हित की बात आती थी तो वह कभी समझौता नहीं करती थी। विचारधारा और पार्टी के विकास में उन्होंने बड़ा योगदान दिया।’

प्रधानमंत्री मोदी ने सुषमा स्वराज को एक शानदार प्रशासक के रूप में याद किया। उन्होंने लिखा, ‘एक शानदार प्रशासक सुषमा जी ने जिन भी मंत्रालयों को संभाला, वहां उच्च मानक स्थापित किए। तमाम देशों के साथ भारत के रिश्तों को बेहतर बनाने में उन्होंने अहम भूमिका निभाई। मंत्री के तौर पर हमने उनका दयालु रूप भी देखा, दुनिया के किसी भी कोने में फंसे भारतीयों की वह मदद करती थीं।’

पीएम मोदी ने अपनी पूर्व कैबिनेट सहयोगी के कार्यकाल को याद करते हुए लिखा, ‘मैं यह नहीं भूल सकता कि सुषमाजी ने विदेश मंत्री के तौर पर पिछले 5 सालों में किस तरह बिना थके काम किया। यहां तक कि जब उनकी सेहत ठीक नहीं थी, तब भी उन्होंने अपने काम के प्रति न्याय के लिए हर संभव काम किया और अपनी मंत्रालय के बारे में अप टु डेट रहती थीं। उनकी भावना और प्रतिबद्धता अद्वितीय थी।’

प्रधानमंत्री मोदी ने अगले ट्वीट में लिखा, ‘सुषम जी का निधन मेरे लिए निजी क्षति है। भारत के लिए उन्होंने जो किया, उसके लिए वह याद रखीं जाएंगी। इस दुर्भाग्यपूर्ण घड़ी में मेरी उनके परिवार, समर्थकों और प्रशंसकों के प्रति संवेदना। ओम शांति।’

Leave a Reply