भारत की यह कमजोरी डुबा सकती है टीम की नैया, टूट सकता है WC का सपना

भारत की यह कमजोरी डुबा सकती है टीम की नैया, टूट सकता है WC का सपना

- in खेल
0

नई दिल्ली,

पूर्व भारतीय सलामी बल्लेबाज के. श्रीकांत का मानना है कि कप्तान विराट कोहली और रोहित शर्मा को मध्यक्रम से समर्थन की जरूरत है ताकि टीम विश्व कप के बाकी मैचों में अच्छा प्रदर्शन कर सके. भारतीय टीम को इंग्लैंड एंड वेल्स में जारी आईसीसी विश्व कप में रविवार को इंग्लैंड के हाथों 31 रनों से हार का सामना करना पड़ा. टूर्नामेंट में भारत की यह पहली हार है. इस मैच में रोहित ने शतक और कोहली ने अर्धशतक बनाया. इनकी 138 रन की साझेदारी टूटने के बाद टीम जीत के रास्ते से भटक गई.

श्रीकांत ने आईसीसी के लिए अपने कॉलम में लिखा, ‘भारत के लिए अभी भी कुछ मुश्किलें हैं. इस समय विराट कोहली और रोहित शर्मा रन बनाने वाले मुख्य बल्लेबाज हैं और उन्हें कुछ सपोर्ट की जरूरत है.’उन्होंने कहा, ‘भारत को अभी भी सेमीफाइनल के लिए क्वालीफाई करना है, यह केवल एक सवाल है कि कब और शीर्ष चार में क्या पॉजिशन रहने वाली है.’

पूर्व सलामी बल्लेबाज ने तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद शमी की तारीफ करते हुए कहा, ‘बुमराह और शमी, दोनों ने शानदार गेंदबाजी की, लेकिन स्पिनरों का दिन नहीं था. ऐसी बातें हो सकती हैं.’उन्होंने लिखा, ‘इंग्लैंड के लिए यह काफी महत्वपूर्ण जीत है. वे इस समय करो या मरो वाली स्थिति में हैं और भारत जैसी मजबूत टीम के खिलाफ मिली जीत से उनका आत्मविश्वास काफी बढ़ा है.’वर्ष 1983 में भारत की विश्व कप विजेता टीम का हिस्सा रहे श्रीकांत ने साथ ही कहा कि बड़े लक्ष्यों का पीछा करना भारत के लिए कभी आसान नहीं रहा है.

उन्होंने कहा, ‘भारत के लिए 338 रनों के लक्ष्य को हासिल करना आसान काम नहीं था. यह इससे भी बड़ा लक्ष्य हो सकता था अगर बुमराह अपने अंतिम पांच ओवरों में शानदार गेंदबाजी नहीं करते. रोहित और कोहली ने अच्छी बल्लेबाजी की और उन्होंने इंग्लैंड को अच्छी टक्कर दी.’श्रीकांत ने कहा, ‘यहां घबराने की जरूरत नहीं है. ऑस्ट्रेलिया सहित सभी टीमें इस टूर्नामेंट में कम से कम एक मैच हारी हैं. भारत वापसी करेगा और सेमीफाइनल में अपना स्थान पक्का करेगा.’

Leave a Reply