उन्नाव रेप पीड़िता से ऐक्सिडेंट साजिश थी? केंद्र ने CBI को सौंपी जांच

उन्नाव रेप पीड़िता से ऐक्सिडेंट साजिश थी? केंद्र ने CBI को सौंपी जांच

- in राष्ट्रीय
0

नई दिल्ली

उन्नाव गैंगरेप पीड़िता की कार के ऐक्सिडेंट के मामले की जांच केंद्र सरकार ने सीबीआई को सौंप दी है। उत्तर प्रदेश सरकार ने सोमवार को इस मामले में सीबीआई से जांच की सिफारिश केंद्र सरकार को भेजी थी। इसके साथ ही प्रदेश ने अपने स्तर पर मामले की जांच के लिए एसआईटी का गठन भी किया था। सीबीआई टीम के पहुंचते ही एसआईटी उसे जांच सौंप देगी। कार्मिक एवं प्रशिक्षण मंत्रालय ने एक लेटर जारी सीबीआई को जांच सौंपने का आदेश दिया है। पीड़िता से गैंगरेप के मामले की जांच पहले से ही सीबीआई के हाथों में है। बता दें कि रविवार शाम को पीड़िता अपनी कार से रायबरेली की जेल में बंद अपने चाचा से मुलाकात के लिए जा रही थी। इसी दौरान सामने से आ रहे एक ट्रक ने उनकी कार को जोरदार टक्कर मार दी थी।

इस भीषण हादसे में पीड़िता की मौसी एवं चाची की मौत हो गई थी, जबकि गैंगरेप पीड़िता और वकील की हालत नाजुक बनी हुई है। इस घटना को लेकर विपक्षी दलों ने सवाल उठाते हुए कहा था कि यह हादसा नहीं बल्कि साजिश है। इसके बाद प्रदेश सरकार ने सोमवार को केंद्र से सीबीआई से जांच कराए जाने की सिफारिश की थी। इसके साथ ही कुलदीप सिंह सेंगर समेत 10 नामजद तथा 15-20 अज्ञात लोगों के खिलाफहत्या का मुकदमा दर्ज किया गया। बता दें कि गैंगरेप के इस मामले में उन्नाव की बांगरमऊ सीट से बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर जेल में बंद है। बीजेपी ने उन्हें पार्टी से निलंबित कर दिया है।

इस बीच पीड़िता की चाची के लिए अंतिम संस्कार के लिए रायबरेली जेल में बंद उसके चाचा को बुधवार दिन भर के लिए परोल मिली है। सूत्रों के अनुसार बुधवार सुबह ही रेप पीड़िता की चाची का शव गांव लाया जाएगा और चाचा भी सुबह रायबरेली जेल से माखी गांव पहुंचेंगे। वहां से परियर घाट पर मृतका का अंतिम संस्कार किया जाएगा जबकि अन्य मृतक मौसी का अंतिम संस्कार बाराबंकी में होना बताया जा रहा है।

पीड़िता और वकील की हालत नाजुक
बता दें कि बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर करीब दो साल पहले बलात्कार का आरोप लगाने वाली लड़की, उसकी चाची और मौसी अपने वकील के साथ रायबरेली जेल में बंद अपने रिश्तेदार (पीड़ित के चाचा) से रविवार को मुलाकात करने जा रही थी। रास्ते में रायबरेली के गुरबख्शगंज क्षेत्र में उनकी कार और एक ट्रक के बीच संदिग्ध परिस्थितियों में टक्कर हो गई थी। इस घटना में लड़की की मौसी ने स्थानीय अस्पताल में दम तोड़ दिया था। उधर, हादसे में घायल कार सवार उसकी चाची को लखनऊ स्थित ट्रॉमा सेंटर में चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया था। इस घटना में घायल लड़की और उसके वकील की हालत बेहद नाजुक है और वे दोनों ट्रॉमा सेंटर में वेंटिलेटर पर हैं।

Leave a Reply