WC: शमी की हैटट्रिक- यूं चित हुए अफगान

WC: शमी की हैटट्रिक- यूं चित हुए अफगान

- in खेल
0

साउथैम्पटन

टीम इंडिया ने अफगानिस्तान के खिलाफ खेले गए रोमांचक मुकाबले में अंतिम पलों में जीत दर्ज कर ली। अफगानिस्तान की टीम इस में 225 रन के टारगेट का बूखबी पीछा करते दिख रही थी। मैच के अंतिम क्षणों में अफगानिस्तान के लिए हाफ सेंचुरी जड़ चुके ऑलराउंडर खिलाड़ी मोहम्मद नबी अपनी टीम के लिए कमाल करते दिख रहे थे कि इस वर्ल्ड कप में अफगानिस्तान की पहली जीत के बीच में मोहम्मद शमी आ गए। शमी ने लाजवाब हैटट्रिक अपने नाम कर भारत को जीत दिला दी। अब वर्ल्ड कप में हैटट्रिक लेने वाले वह दूसरे भारतीय बोलर बन गए हैं। शमी से पहले चेतन शर्मा ने 1987 वर्ल्ड कप में न्यू जीलैंड के खिलाफ नागपुर में यह उपलब्धि अपने नाम की थी।

यहां देखें यूं रही शमी की हैटट्रिक और अंतिम ओवर का रोमांच
मोहम्मद शमी का पारी का आखिरी ओवर फेंकने के लिए आए थे। अफगानिस्तान को जीत को लिए यहां से 16 रन और चाहिए थे और उसके लिए यहां 48 रन पर शानदार बैटिंग कर मोहम्मद नबी क्रीज पर थे।

पहली गेंद: चौका
स्ट्राइक पर थे नबी- शमी का यॉर्कर का प्रयास। लेकिन वह चूके और गेंद लोअर फुटटॉस के रूप में नबी के पास पहुंची। नबी को शायद इसी बॉल का इंतजार था और उन्होंने इसे खेल लॉन्ग ऑन के क्षेत्र में जोरदार ढंग से खेल दिया। गेंद फील्डर से दूर और सीमा रेखा रेखा के बाहर 4 रन। नबी की हाफ सेंचुरी पूरी।

दूसरी गेंद: कोई रन नहीं
इस बार शमी ने गेंद की लाइन को बदला और मिडल और लेग स्टंप पर गुड लेंग्थ एरिया में यह गेंद फेंकी। नबी ने यहां मिडविकेट पर शॉट घुमाने का प्रयास किया लेकिन वह मनचाहे ढंग से इस पर शॉट नहीं खेल पाए। हालांकि यह एक रन दौड़ने का उनके पास मौका था, लेकिन उन्होंने इसे नाकार दिया।

तीसरी गेंद: नबी कैच आउट
एक बार फिर शमी की गेंद पर नबी (52) ने लॉन्ग ऑन क्षेत्र में शॉट खेल दिया। हवा में यह गेंद। फैन्स और टीम इंडिया की सांसे अटक सी रही थीं कि तभी गेंद के नीचे हार्दिक पंड्या दिखाई दिए और उनके हाथ में आसान सा कैच। भारत को 8वीं सफलता और यहां से मैच टीम इंडिया की मुट्ठी में आता हुआ दिखने लगा।

चौथी गेंद: आफताब आलम बोल्ड
परफैक्सट यॉर्कर इस बार नया बल्लेबाज जब तक शमी की इस गेंद को भांप पाए और अपना बल्ला अड़ा पाए। गेंद सीधे विकेटों पर। बोल्ड। हालांकि आफताब ने यहां तेजी से बैट चलाया था लेकिन बॉल और बैट में कोई संपर्क नहीं। शमी को
इस ओवर में लगातार दूसरी और मैच में तीसरी सफलता। हैटट्रिक चांस पर शमी।

पांचवी गेंद: मुजीब उर रहमान- बोल्ड और हैटट्रिक
एक बार फिर यॉर्कर और शमी को मनचाहा रिजल्ट। मुजीब बोल्ड। शमी की हैटट्रिक भारत ने यह मुकाबला 11 रन से जीता। मुजीब ने भी यहां शॉट खेलना चाहा था लेकिन बॉल बैट में कोई संपर्क नहीं। गेंद सीधे लेग स्टंप को चूम गई। शमी की वनडे क्रिकेट में यह पहली हैटट्रिक और वर्ल्ड कप में हैटट्रिक लेने वाले दूसरे भारतीय और दुनिया के 9वें गेंदबाज।

भारत के दूसरे गेंदबाज बने शमी
शमी विश्व कप में हैटट्रिक लगाने वाले दुनिया के 9वें (हालांकि, यह वर्ल्ड कप की 10वीं हैटट्रिक है) और भारत के दूसरे गेंदबाज बने। उनसे पहले चेतन शर्मा (1987), सकलेन मुश्ताक (1999), चमिंडा वास (2003), ब्रेट ली (2003), लसिथ मलिंगा (2007), केमार रोच (2011), लसिथ मलिंगा (2011) , स्टीव फिन (2015) और जेपी डुमिनी (2015) यह कमाल कर चुके हैं। किसी ने सोचा भी नहीं होगा कि खिताब की प्रबल दावेदार और पहले तीनों मैच आसानी से जीतने वाली भारतीय टीम को अफगानिस्तान से ऐसी चुनौती मिलेगी।

Leave a Reply