हथियार खरीदारों की लिस्ट, भारत टॉप पर: रिपोर्ट

हथियार खरीदारों की लिस्ट, भारत टॉप पर: रिपोर्ट

- in राष्ट्रीय
0

नई दिल्ली

भारत अभी तक देश में डिफेंस इंडस्ट्री विकसित नहीं कर पाया है। इसकी वजह से हथियारों के लिए भारत की निर्भरता दूसरे देशों पर ही बनी हुई है। भारत अब विश्व का सबसे बड़ा हथियार और रक्षा उपकरणों को आयात करने वाला देश है। 2013 से 2017 तक अकेले भारत का हिस्सा विश्व के सभी देशों द्वारा आयात किए जानेवाले कुल हथियारों का 12 फीसदी है। देश में रक्षा उपकरणों के निर्माण नहीं कर पाने के कारण भारतीय सेना को सैन्य उपकरणों और हथियारों के लिए दूसरे देशों पर निर्भर रहना पड़ा है।

इंटरनैशनल आर्म्स ट्रांसफर्स ने हाल ही में डेटा रिलीज किए हैं। इस डेटा के अनुसार भारत द्वारा हथियारों की खरीद में 24 फीसदी से अधिक की वृद्धि हुई है। 2008 से 2013 की तुलना में भारत में 2013 से 2017 तक में 24 फीसदी अधिक हथियार खरीदे गए। भारत के बाद इस लिस्ट में विश्व के टॉप हथियार खरीदार सऊदी अरब, मिस्त्र, यूएई, चीन, ऑस्ट्रेलिया, अल्जीरिया, इराक, पाकिस्तान और इंडोनेशिया हैं। 2013 से 17 के बीच भारत ने हथियारों की कुल खरीद में से 62 फीसदी सिर्फ रूस से ही खरीदा। इसके बाद 15 फीसदी हथियार अमेरिका और 11 फीसदी इजरायल से खरीदे गए।

भारत रूस और इजरायल का सबसे बड़ा हथियार खरीदार है। चीन की विदेश नीति से मुकाबला करने के लिए पिछले कुछ वर्षों में अमेरिका का रवैया भारत के प्रति बदला है और अमेरिका भारत को पहले की तुलना में कहीं अधिक हथियार बेच रहा है। एशिया में चीन के दबदबे को कम करने के लिए अमेरिका की कोशिश में भारत एक मजबूत साथी की तरह उभर रहा है।

2008 से 2012 की तुलना में 2013 से 2017 तक में भारत ने अमेरिका से काफी अधिक मात्रा में हथियार खरीदे हैं। इस दौरान अमेरिका से भारत के हथियारों की खरीद में लगभग 557 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है। पिछले एक दशक में अमेरिका और भारत के बीच 15 बिलियन डॉलर की हथियारों की डील हुई है।

दूसरी तरफ भारत को चीन इस वक्त विश्व के सबसे बड़े हथियार निर्यातक देशों में से एक है। चीन ने पिछले कुछ दशकों में बहुत ही व्यवस्थित तरीके से अपने डिफेंस इंडस्ट्रियल बेस को मजबूत बनाया है। चीन इस वक्त टॉप 5 हथियार निर्यातक देशों में से है। अमेरिका, रूस, फ्रांस और जर्मनी के बाद पांचवा स्थान चीन का है। चीन का सबसे बड़ा हथियार खरीदार देश पाकिस्तान है। चीन अपने कुल हथियार निर्यात में से 35 फीसदी पाकिस्तान को बेचता है। इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर बांग्लादेश (19%) है।

Leave a Reply