टीम का ख्याल, गांगुली के दखल से रणजी से ‘आउट’ हुए बुमराह

टीम का ख्याल, गांगुली के दखल से रणजी से ‘आउट’ हुए बुमराह

- in Featured, खेल
0

मुंबई

केरल और गुजरात के बीच गुरुवार से शुरू हो रहे रणजी ट्रोफी मुकाबले से पहले यह चर्चा आम थी कि टीम इंडिया की तेज गेंदबाजी के अगुआ जसप्रीत बुमराह इस मैच से वापसी कर सकते हैं। हालांकि अब ऐसा पता चला है कि बुमराह एलीट ग्रुप ‘ए’ के इस मैच में नहीं खेलेंगे जो गुरुवार से लालाभाई कॉन्ट्रेक्टर स्टेडियम, सूरत में खेला जाएगा।

तीन महीने के ब्रेक के बाद प्रतिस्पर्धी क्रिकेट में लौट रहे बुमराह को केरल के खिलाफ एलीट ग्रुप ए के मैच के लिए सूरत पहुंचने को कहा गया था। वहीं बुमराह को मैच खेलने में ‘कोई समस्या नहीं’ थी। वह निजी रूप से सोचते हैं कि उनकी वापसी परेशानी और जल्दबाजी भरी नहीं होना चाहिए। उनका लक्ष्य जनवरी 2020 से शुरू हो रहे क्रिकेट सीजन के लिए आराम से तैयार हो सकें

इस गेंदबाज ने बीसीसीआई अध्यक्ष सौरभ गांगुली और सचिव जय शाह को अपनी परेशानी से अवगत कराया था, हालांकि इन दोनों ने बुमराह को फिलहाल सफेद बॉल क्रिकेट पर ध्यान देने को कहा है। गुजरात के कप्तान पार्थिव पटेल ने भी पुष्टि की है कि बुमराह सूरत में हो रहे मुकाबले में नहीं खेलेंगे।

सूत्रों ने यह भी कहा कि राष्ट्रीय चयन समिति ने गुजरात टीम प्रबंधन को सलाह दी है कि चूंकि बुमराह चोट से उबर रहे हैं इसलिए उन्हें एक दिन में अधिक से अधिक 8 ओवर ही गेंदबाजी करने दी जाए। लेकिन गुजरात टीम प्रबंधन इस बात से थोड़े परेशान से नजर आती है। उनका कहना है कि एक ऐसे गेंदबाज को टीम में मौका देना जो एक दिन में अधिकतम आठ ओवर ही गेंदबाजी कर सके, उनके लक्ष्य की पूर्ति नहीं करता।गांगुली ने प्रोटोकॉल को एक ओर रखते हुए बुमराह को अपना ब्रेक जारी रखने की अनुमति दे दी। बुमराह अब सीधा श्रीलंका के खिलाफ टी20 इंटरनैशनल सीरीज में ही खेलेंगे।

एक सूत्र ने हमारे सहयोगी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया को बताया, ‘न्यू जीलैंड सीरीज के लिए अभी काफी वक्त है। दरअसल, सीरीज का पहला टेस्ट मैच अगले साल 21 फरवरी को शुरू होगा। तब तक वह लाल गेंद से कोई मैच नहीं खेलेंगे। तो, जल्दबाजी की कोई बात नहीं। तो वह अभी टी20 मैचों में चार ओवर फेंक सकते हैं और न्यू जीलैंड सीरीज करीब आने के बाद रणजी ट्रोफी मैच खेल सकते हैं।’

टी20 सीरीज आने से पहले टीम प्रबंधन बुमराह को सारा दिन गेंदबाजी करवाने से भी सहमत नहीं है।सूत्र ने कहा, ‘गुजरात क्रिकेट असोसिएशन तक अनुरोध पहुंचा दिया है जिसमें भारतीय टीम के हित को ध्यान रखा गया है। जब हम यह कहते हैं कि ‘बुमराह दुनिया के सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज हैं तो हमें उन्हें उनके साथ उस तरह का व्यवहार भी करना चाहिए।”सूत्र ने कहा कि सब बातों के साथ, ‘गांगुली और भारतीय टीम प्रबंधन और कप्तान विराट कोहली इस बात पर एकराय हैं।’

Leave a Reply