Friday , June 18 2021
Home / Uncategorized / मजदूरों की एक दिन की हड़ताल से देश को 25000 करोड़ का नुकसान

मजदूरों की एक दिन की हड़ताल से देश को 25000 करोड़ का नुकसान

नई दिल्ली

Trade-unions-observe-nation-300x200केंद्रीय मजदूर संगठनों की हड़ताल ने देश को भारी नुकसान पहुंचाया है। बुधवार को हुई देशव्यापी हड़ताल से अर्थव्यवस्था को 25 हजार करोड़ रुपये नुकसान होने की आशंका है। एसोसिएटेड चैंबर्स ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री ऑफ इंडिया (एसोचैम) के महासचिव डी.एस. रावत ने कहा कि आवश्यक सेवाएं प्रभावित होने से अर्थव्यवस्था को 25 हजार करोड़ रुपये नुकसान होने की आशंका है।

उन्होंने कहा कि मजदूरों की अनुपस्थिति से औद्योगिकी गतिविधि अवरुद्ध होगी। इसके अलावा सार्वजनिक परिवहन सेवा प्रभावित होने से खुदरा बाजार में भी व्यवधान पैदा होगा और बैंक कर्मियों के हड़ताल पर रहने से बैंकिंग सेवा भी प्रभावित होगी। बुधवार की हड़ताल का देश भर में व्यापक असर हुआ है।

रावत ने कहा कि माल निर्यात करने वाले परिवहन माध्यमों पर हड़ताल का व्यापक असर होगा, जिससे समय पर माल की आपूर्ति नहीं हो पाएगी। इसके अलावा निर्यात में पहले से ही दर्ज की जा रही गिरावट के कारण यह हड़ताल एक और धक्का साबित होगी। उद्योग संघ के मुताबिक इसका सबसे बुरा असर गरीब दिहाड़ी मजदूरों पर होगा।

रावत ने कहा कि श्रम सुधार जरूरी है और उद्योग तथा देश हित में समाधान निकालने के लिए सरकार को हस्तक्षेप करना चाहिए। गौरतलब है कि हड़ताल 12 सूत्रीय मांगों के पक्ष में है, जिसमें श्रम सुधार वापस लिया जाना, 15 हजार रुपये की न्यूनतम मजदूरी तय करने और सरकारी कंपनियों का निजीकरण नहीं करने जैसी मांगें शामिल हैं।

About mpekhabar bhopal

Check Also

रोड एक्सीडेंट में 4 बच्चे व ड्राइवर की मौत, बस में थे 12 बच्चे सवार थे, उनमें से 8 बच्चे हुए घायल।

शुक्रवार को मध्यप्रदेश के देवास में हुए सड़क हादसे में दिल्ली पब्लिक स्कूल के चार ...

Leave a Reply