Wednesday , July 21 2021
Home / राष्ट्रीय / आरुषि केस: नौकर बोला, IG कुमार का दबाव था

आरुषि केस: नौकर बोला, IG कुमार का दबाव था

नई दिल्ली

aarushi-case-559ca0cf5d45a_l-300x214आरुषि तलवार दोहरे हत्याकांड में आरोप मुक्त किए गए एक आरोपी के नारको टेस्ट का वीडियो सामने आया है। इसमें उसने दावा किया कि सीबीआई के एक वरिष्ठ अधिकारी ने अपराध स्वीकार कर लेने के लिए उस पर दबाव डाला था।   यू ट्यूब पर अपलोड एक घंटे के वीडियो में राजेश तलवार का सहायक कृष्णा कह रहा है कि सीबीआई के तत्कालीन संयुक्त निदेशक अरुण कुमार ने उससे इस वादे के साथ गुनाह स्वीकार कर लेने को कहा कि उसकी सजा कम हो जाएगी।

दोषी दंत चिकित्सक दंपति राजेश और नूपुर तलवार के नौकरों का किए गए नारको टेस्ट का वीडियो देने की मांग करने वाली उनकी याचिका सुप्रीम कोर्ट ने इस आधार पर खारिज कर दी थी कि वे स्वीकार्य सबूत नहीं हैं।  2008 में रिकॉर्ड किए गए इस वीडियो में कृष्णा डॉक्टर से कह रहा है, मैं कभी यहां से नहीं भागूंगा। मैं क्यों भागूंगा। मैंने कोई गुनाह नहीं किया है। मैंने उनसे पहली बार कहा था जब उन्होंने मुझसे आरोप अपने ऊपर ले लेने को कहा था।

कृष्णा राजेश की उनके क्लिनिक में मदद किया करता था। जब डॉक्टर ने उससे पूछा कि किसने उससे आरोप को अपने ऊपर लेने को कहा, तो कृष्णा ने कहा, आईजी कुमार। 1985 बैच के आईपीएस अधिकारी और सीबीआई के तत्कालीन संयुक्त निदेशक अरुण कुमार ने इस हत्याकांड की जांच करने वाली सीबीआई की पहली टीम का नेतृत्व किया था। उसके निष्कर्ष में नौकरों कृष्णा, राजकुमार और विजय मंडल को कथित तौर पर फंसाया गया था। इसे सीबीआई निदेशक अश्विनी कुमार ने खारिज कर दिया था।

वहीं, पटना में सीआरपीएफ के महानिरीक्षक अरुण कुमार का कहना है कि संबंधित वीडियो प्रामाणिक स्रोत का नहीं है। वीडियो के साथ छेड़छाड़ के सवाल पर उन्होंने कहा कि वह इस पर टिप्पणी नहीं कर सकते हैं।   कुमार ने कहा कि इस वीडियो को चैनलों पर दिखाया गया लेकिन आप जो देख रहे हैं वह मूल नहीं है। उन्होंने कहा कि प्रामाणिक सीडी लैब, सीबीआई या आरोपियों के पास है।

About Editor

Check Also

आर्मी चीफ नरवणे की चेतावनी, LoC पार करने वाले आतंकी जिंदा नहीं लौट पाएंगे

नई दिल्ली जम्मू-कश्मीर के नगरोटा इलाके में गुरुवार सुबह सुरक्षाबलों ने चार आतंकियों को मार ...

Leave a Reply