Wednesday , April 7 2021
Home / राजनीति / मोदी दलित विरोधी, उनकी किताब में भी जिक्र: लालू

मोदी दलित विरोधी, उनकी किताब में भी जिक्र: लालू

पटना

04slid22-300x200बिहार चुनाव के वक्त बीफ बयान पर फंसे आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव ने एक बार फिर पीएम नरेंद्र मोदी को निशाना बनाया। लालू ने आरक्षण के मुद्दे को लेकर मोदी पर सवाल उठाए। लालू ने कहा कि मोदी जी बताएं आरक्षण पर अब तक चुप क्यों हैं। क्या ये चुप्पी आरक्षण खत्म करने की सहमति है।

लालू ने कहा कि मोदी भागवत के बयान की निंदा करें वरना मोहन भागवत को बाहर करें। लालू ने पूछा, मोहन बड़े हैं या आप बड़े हैं? बाहर नहीं किया तो स्पष्ट है कि वो अपने गुरू की बात रखकर देश के 80% पिछड़ों का गला घोटना चाहते हैं। लालू ने कहा कि मोदी शुरू से दलित विरोधी हैं। 2007 में प्रकाशित अपनी पुस्तक कर्म योग में दलित विरोधी मानसिकता का परिचय दिया है।

लालू ने दावा किया कि इनकी पुस्तक में मोदी का कहना है मैला ढोना, कचरा उठाना, इत्यादि काम दलित अपनी मर्जी से करता है क्योंकि इससे दलित को अध्यात्मिक सुख शांति मिलती है। दलित भाई मोदी से पूछना चाहता है कि अगर मल मूत्र साफ करने और कचरा उठाने से सुख शांति मिलती है तो मोदी खुद ये काम क्यों नहीं करते और मोहन जी से भी कराते?

लालू यादव ने कहा कि काशी विश्वनाथ मंदिर में दलितों के प्रवेश पर लिखा है कि अगर कोई दलित नेता मंदिर आता है तो उसका विरोध जायज है। प्रधानमंत्री जी संभल जाइए, जितना दिन का था आपका, हो गया बस। हमारी सर्जरी ही है, गाय का गोबर हमारा चंदन है, ये मोदी कभी गोबर उठाया है?

लालू ने हमला जारी रखते हुए कहा कि दिल्ली में हाई फाई, थिंक टैंक जिसको बोलते हैं,बिहार को देखते रह जाएंगे। कह रहे हैं कि हम रंगीन टीवी देंगे, लैपटॉप देंगे, लोन देंगे बिना ब्याज के, पिछला क्लियर करो पहले। तुम लोग झूठा प्रचार कर रहे हो कि कांग्रेस के लिए लालू प्रचार नही करेंगे, भपपपपपपप….।

लालू यादव ने कहा कि RSS नफरत फैलाने वाली फैक्ट्री है। मोदी जी बताइये कि अगर आप बोलते हैं कि हम दलित पिछड़े हैं तो आबादी के हिसाब से हमारा आरक्षण बढ़ाइये, हमारी आरक्षण की मांग को पूरा करिए।

About Editor

Check Also

कांग्रेस ने बताया अर्थव्यवस्था की बर्बादी, तो BJP ने आज गिना डाले नोटबंदी के फायदे

नई दिल्ली देश में ठीक चार साल पहले आज के ही दिन आधी रात से ...

Leave a Reply