Sunday , February 21 2021
Home / भोपाल/ म.प्र / महिलाओं ने रोका शराबियों को, पथराव, शराबी ने फाड़े कपड़े

महिलाओं ने रोका शराबियों को, पथराव, शराबी ने फाड़े कपड़े

भोपाल
bhopal002अयोध्या वायपास रोड पर नई देशी शराब दुकान खुलने को लेकर शुक्रवार को दिन भर हंगामा रहा। जैसे ही दोपहर को रहवासियों को पता चला कि नई सब्जी मंडी के पास नई शराब दुकान खोल दी गई है मौके पर ही महिलाओं ने भारी पुलिस बल के सामने शराबियों को दुकान के अंदर जाने से रोक दिया। जो शराब पीकर बाहर आ रहे थे उन्हें भी परेशान किया। एक शराबी ने तो महिलाओं के सामने ही अपने कपड़े फाड़ लिये वह यह कहता रहा की शराब दुकान खुलेगी तो यही खुलेगी। महिलाओं ने भी शराबी युवक को खूब लताड़ा। इधर भेल की जमीन पर शराब दुकान खुलने की खबर लगते ही भेल के अधिकारी स्थल निरीक्षण करने जा पहुंचे। उन्होंने इस जमीन को अपना बताते हुए ठेकेदार व आबकारी से कागज मांगे लेकिन यह कागज दोनों ही नहीं दिखा सके।
सुबह 11 बजे जैसे ही अयोध्या वायपास रोड स्थित नई सब्जी मंडी के नाले के पास शराब ठेकेदार ने पुलिस व आबकारी बल की मौजूदगी में तंबू लगाकर नहीं शराब दुकान शुरू कर दी। कुछ समय तक तो पुलिस ने तंबू लगाकर धरने पर बैठी महिलाओं को शांत करने की कोशिश की लेकिन जैसे ही यह खबर आग की तरह आसपास की रहवासी कॉलोनी तक पहुंची महिला, पुरूष और बच्चे शराब की दुकान के सामने धरने पर बैठ गए और नारेबाजी शुरू कर दी। पुलिस महकमा मूक दर्शक बनकर तमाशा देखता रहा। यहां मौजूद महिलाओं ने शराब दुकान के सामने मदिरा प्रेमियों को जाने से रोकाना शुरू कर दिया। हाथ में छोटे-छोटे डंडे लिये यह महिलाएं काली के रूप में सामने खड़ी थी। इनका कहना था कि हर हाल में शराब दुकान बंद कराकर रहेंगे। इसी बीच एक शराबी ने नशे में धुत कपड़े उतारकर महिलाओं पर पथराव करने लगा। इससे नाराज महिलाओं ने आबकारी और पुलिस प्रशासन के अफसरों से सहयोग भी मांगा लेकिन उन्हें सहयोग नहीं मिला। पुलिस-आबकारी के बीच झडप चलती रही।

जमीन भेल की है
शराब दुकान की खबर मिलते ही भेल के अपरमहाप्रबंधक पीके मिश्रा और संपदा अधिकारी श्रृंगीऋषि भी मौके पर पहुंच गये। उन्होंने आबकारी निरीक्षक एवं थाना प्रभारी को बताया की यह जमीन भेल की है। ठेकेदार से भी इस जमीन पर दुकान खोलने से संबंधित कागजात मांगते रहे लेकिन किसी के पास भी इससे जुड़े कोई कागजात मौजूद नहीं थे। अधिकारी कहते रहे की ऊपर के आदेश के बाद इस जमीन पर देशी शराब की दुकान खोली गई है। भेल के अमले ने इस जमीन की नपती भी कराई है। भेल अधिकारियों का कहना था कि आईएसबीटी की जमीन के बदले राज्य सरकार ने यहां जमीन आवंटित की थी। गौरतलब है कि इस जमीन पर राजधानी यूथ क्लब और भारतीय योग अनुसंधान केन्द्र की योग व स्वास्थ्य से संबंधित गतिविधियां सालों से संचालित हो रही है। इस संबंध में केन्द्र के संचालक शनकुशल के पास कोर्ट के आदेश मौजूद है। अब यह तय होना बाकी है कि आखिर यह जमीन भेल की है, क्लब की है, योग केन्द्र की है या शराब संचालक को जिला प्रशासन ने लीज पर आवंटित की है।

About Editor

Check Also

हार के बाद भी शिवराज सरकार में इमरती देवी और गिर्राज दंडोतिया बने हैं मंत्री, आगे क्या

भोपाल उपचुनाव में शिवराज सरकार में शामिल 2 मंत्री चुनाव हार गए हैं। चुनाव हारने ...

Leave a Reply