Tuesday , September 21 2021
Home / भोपाल/ म.प्र / व्यापमं घोटाले के आरोपी संजीव सक्सेना की रिहाई पर मना जश्न

व्यापमं घोटाले के आरोपी संजीव सक्सेना की रिहाई पर मना जश्न

भोपाल

vy_2-300x225व्यापमं घोटाले में आरोपी और कांग्रेस नेता रहे संजीव सक्सेना को हाईकोर्ट से जमानत मिलने के बाद जेल से रिहा किया गया तो उसका जश्न जेल से लेकर उनके निवास तक मनाया गया। संजीव सक्सेना के समर्थकों ने 50 से ज्यादा गाड़ि‍यों से केंद्रीय जेल करौंद पहुंचकर उनका स्वागत किया और फिर रैली निकाली।

व्यापमं घोटाले के आरोपी संजीव सक्सेना करीब दो साल से जेल में थे और उन्हें हाईकोर्ट ने पिछले दिनों जमानत पर छोड़ने के आदेश किए थे। सोमवार को जिला अदालत में हाईकोर्ट के आदेश पहुंचने के बाद रिहाई की प्रक्रिया पूरी की गई लेकिन इसमें शाम हो जाने की वजह से संजीव सक्सेना की रिहाई नहीं हो सकी थी। आज सुबह उनकी रिहाई की औपचारिकताएं पूरी की गईं।

सुबह उनके समर्थक कार और दोपहिया वाहनों पर सवार होकर जेल परिसर पहुंचे। ढोल ढमाकों के साथ उनका जेल के बाहर हार-फूलों से स्वागत किया गया। संजीव सक्सेना के जेल परिसर से निकलने में ही काफी समय लग गया था। इसके बाद रैली पुराने शहर से होते हुए नए शहर पहुंची जहां कई स्थानों पर उनका स्वागत किया गया।

गौरतलब है कि इसी तरह का स्वागत व्यापमं के एक और आरोपी पूर्व मंत्री लक्ष्‌मीकांत शर्मा का भी जमानत पर रिहाई के समय हुआ था और भोपाल से लेकर विदिशा जिले के सिरोंज स्थित उनके निवास तक रैली के रूप में उन्हें ले जाया गया था।

कौन है संजीव सक्सेना
संजीव सक्सेना कांग्रेस नेता रहे हैं। व्यापमं घोटाले की जांच में इनके पास भोपाल, दिल्ली और केरल में भी संपत्ति होने का खुलासा हुआ था। प्रदेश की राजधानी भोपाल के पॉश इलाके श्यामला हिल्स और कोटरा जैसे इलाकों में एक एकड़ का प्लॉट मिला। वहीं शहर के संजय कॉम्प्लेक्स, सात नंबर स्टॉप, शिवाजी नगर में दुकाने मिली थीं। चूना भट्टी और शाहपुरा में इनके बंगले मिले। जांच में अमरावद खुर्द और कुशलपुरा में 100 एकड़ जमीन भी मिली।

About Editor

Check Also

हार के बाद भी शिवराज सरकार में इमरती देवी और गिर्राज दंडोतिया बने हैं मंत्री, आगे क्या

भोपाल उपचुनाव में शिवराज सरकार में शामिल 2 मंत्री चुनाव हार गए हैं। चुनाव हारने ...

Leave a Reply