Monday , July 26 2021
Home / भोपाल/ म.प्र / राष्ट्रविरोधी नारे लगाना बम फेंकने से कम नहीं : नंदकुमार सिंह चौहान

राष्ट्रविरोधी नारे लगाना बम फेंकने से कम नहीं : नंदकुमार सिंह चौहान

भोपाल

nandkumar-c-300x225“जेएनयू में जिस तरह राष्ट्रविरोधी नारे लगाए गए, वह बम फेंकने से छोटा अपराध नहीं है। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के पिता, दादी और परदादा के हाथ में वर्षों तक देश की कमान रही। अब कुर्सी खिसक गई तो पाक जिंदाबाद के नारे लगाने वालों के समर्थन में खड़े हो गए।”

ये आरोप प्रदेश भाजपा अध्यक्ष नंदकुमार सिंह चौहान ने लगाए। जेएनयू मामले को लेकर रविवार को भाजपा के धिक्कार दिवस के तहत वह राजधानी के बोर्ड आफिस चौराहे पर आयोजित धरने को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि कुछ मनचले एकत्र होकर अफजल की बरसी मनाकर देश विरोधी नारे लगाते हैं। ऐसे लोग बुद्धिजीवी नहीं, देशद्रोही हैं। ऐसी बातें करते हुए उनकी जुबान क्यों नहीं गल गई?

अफजल को सुप्रीम कोर्ट ने सजा सुनाई थी, उसने संसद उड़ाने की साजिश रची थी। ये बुद्धिजीवी इस तरह की नारेबाजी कर क्या संदेश देना चाहते हैं। ये देश का सवाल है, बेनकाब चेहरे लोगों के दिलों से उतर चुके हैं। धरने को भोपाल के सांसद आलोक संजर, भोपाल विकास प्राधिकरण अध्यक्ष ओम यादव एवं पूर्व विधायक शैलेंद्र प्रधान ने भी संबोधित किया। इस दौरान विधायक सुरेंद्रनाथ सिंह एवं महापौर आलोक शर्मा भी मौजूद थे। संचालन जिला उपाध्यक्ष अशोक सैनी ने किया।

तो पीडीपी का भी विरोध करेंगे….
पत्रकारों से चर्चा करते हुए चौहान ने कहा कि भाजपा प्रदेश भर में ऐसी सभाएं आयोजित कर कांग्रेस के इस कृत्य की निंदा कर रही है। उनसे पूछा गया कि जम्मू-कश्मीर में भाजपा के सहयोगी दल पीडीपी के कार्यकर्ता भी आए दिन ऐसे नारे लगाते हैं, तब भाजपा ने आपत्ति क्यों नहीं ली? इस पर चौहान ने कहा कि हमारे लिए देश पहले है। यदि पीडीपी के लोग राष्ट्रविरोधी नारे लगाएंगे तो भाजपा उनका भी विरोध करेगी।

About Editor

Check Also

हार के बाद भी शिवराज सरकार में इमरती देवी और गिर्राज दंडोतिया बने हैं मंत्री, आगे क्या

भोपाल उपचुनाव में शिवराज सरकार में शामिल 2 मंत्री चुनाव हार गए हैं। चुनाव हारने ...

Leave a Reply