कोरोना: 15 लाख मजदूरों को 1000 रुपये देगी यूपी सरकार

कोरोना: 15 लाख मजदूरों को 1000 रुपये देगी यूपी सरकार

लखनऊ

देश और दुनिया में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों ने लोगों को आर्थिक रूप से भी प्रभावित किया है। उत्तर प्रदेश में इस वायरस से संक्रमित लोगों की कुल संख्या 23 पहुंच चुकी है जबकि इनमें से 9 लोग ठीक भी हो चुके हैं। कोरोना वायरस से मजदूर वर्ग खासा प्रभावित हुआ है। इसे देखते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अहम फैसला किया है।

मुख्यमंत्री योगी ने ऐलान किया है कि 15 लाख दिहाड़ी मजदूरों और 20.37 लाख कंस्ट्रक्शन वर्कर्स की दैनिक आवश्यकताओं की पूर्ति होती रहे, जिसके लिए उन्हें प्रति के हिसाब से 1 हजार रुपये प्रतिमाह दिया जाएगा। बताया गया है कि जिन श्रमिकों के खाते नहीं है, उनके खाते जल्द से जल्द खुलवाकर विभाग में लेबर सेस फंड से सभी 20.37 लाख श्रमिकों को 1 हजार रुपये प्रतिमाह डीबीटी के जरिए उपलब्ध कराए जाएंगे। इस पर लगभग 203 करोड़ रुपये का भार आएगा।

प्राथमिकता से बनवाए जाएंगे राशन कार्ड्स
शहर में घुमंतू प्रकृति जैसे ठेला, खोमचा, साप्ताहिक बाजार आदि का कार्य करने वाले लगभग 15 लाख श्रमिकों का बैंक खाता विवरण सहित डेटाबेस नगर विकास विभाग की ओर से अगले 15 दिनों में तैयार किया जाएगा। इन सभी मजदूरों के खातों में हर महीने 1000 रुपये की धनराशि डाली जाएगी। इस पर लगभग 150 करोड़ रुपये का व्यय भार अनुमानित है। इसके साथ ही शहरी क्षेत्र के ऐसे दिहाड़ी मजदूर जिनके पास राशन कार्ड उपलब्ध नहीं है, उनके राशन कार्ड प्राथमिकता के आधार पर बनवाए जाएंगे।

Leave a Reply