लॉकडाउन: मजदूरों को 5,000 रुपये देगी दिल्ली सरकार

लॉकडाउन: मजदूरों को 5,000 रुपये देगी दिल्ली सरकार

नई दिल्ली

कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए केंद्र और राज्य सरकारें लगातार जरूरी कदम उठा रही हैं। दिल्ली में अरविंद केजरीवाल सरकार ने लॉकडाउन का ऐलान किया है। इस बीच दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को निर्माण कार्य में लगे मजदूरों को लेकर अहम ऐलान किया। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस संक्रमण के कारण निर्माण कार्यों में लगे मजदूरों की जीविका प्रभावित हो रही है। इस हालात में दिल्ली सरकार प्रत्येक मजदूर को पांच-पांच हजार रुपये देगी।

46 हजार मजदूरों को होगा फायदा
एक अधिकारी के अनुसार, दिल्ली सरकार के इस कदम से निर्माण मजदूर कल्याण बोर्ड फंड में रजिस्टर लगभग 46 हजार मजदूरों को फायदा होगा। केजरीवाल ने मंगलवार शाम प्रेस कॉन्फ्रेंस की, इसमें उन्होंने कहा कि दिल्ली में पिछले 40 घंटे में कोरोना वायरस संक्रमण का कोई नया मामला सामने नहीं आया है और वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या 30 से कम होकर 23 हो गयी है। केजरीवाल ने कहा कि यह अच्छी खबर है कि कुछ मरीज स्वस्थ हो गए हैं लेकिन साथ ही उन्होंने सावधान किया कि कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई अभी लंबी चलनी है।

केजरीवाल बोले- 5 डॉक्टरों की टीम का गठन
मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आगे कहा कि अगर दिल्ली कोरोना वायरस महामारी के तीसरे चरण में पहुंचने की स्थिति में जाती है तो उससे कैसे निपटा जाए, इस पर सलाह देने के लिए उन्होंने पांच डॉक्टरों की एक टीम गठित की है जिसे 24 घंटे में अपनी रिपोर्ट सौंपने को कहा गया है। इधर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रात आठ बजे राष्ट्र को संबोधित करते हुए मध्यरात्रि से देशभर में 21 दिन के लॉकडाउन का ऐलान किया।

डॉक्टरों, नर्सों, पायलटों से नहीं करें भेदभाव: केजरीवाल
अरविंद केजरीवाल ने लोगों से अनुरोध किया कि वे इस मुश्किल घड़ी में एक-दूसरे की मदद करें। उन्होंने कहा कि लोग कोरोना वायरस संक्रमण के खिलाफ लड़ाई में मोर्चा संभाले हुए पेशेवरों, डॉक्टरों, नर्सों, पायलटों और एयर होस्टेस के साथ भेदभाव ना करें। केजरीवाल ने कहा कि उन्हें दिल्ली में कई स्थानों पर शिकायत मिली है कि इन महान लोगों को भेदभाव का सामना करना पड़ रहा है, जो अस्वीकार्य है।

Leave a Reply