राज ठाकरे का विवादित बयान, ‘जमातियों को गोली मार देना चाहिए’

राज ठाकरे का विवादित बयान, ‘जमातियों को गोली मार देना चाहिए’

मुंबई

महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना प्रमुख राज ठाकरे ने तबलीगी जमात के लोगों को लेकर शनिवार को विवादित बयान दिया है। कोरोना के संदेह में क्वारंटीन किए गए जमातियों के महिला मेडिकल स्टाफ के साथ कथित अभद्रता पर प्रतिक्रिया देते हुए ठाकरे ने कहा कि ऐसे लोगों को गोली मार देना चाहिए। उन्होंने ऐसे लोगों का इलाज रोकने की भी बात कही, साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से इस मसले पर चुप्पी तोड़ने के लिए कहा। ठाकरे ने एक इंटरव्यू में ये बातें कहीं।

‘जमातियों को इलाज की क्या जरूरत?’
ठाकरे ने मीडिया को बताया, ‘दिल्ली के निजामुद्दीन के मरकज में यह मीटिंग (तबलीगी जमात) हुई। लॉकडाउन के वक्त जमात के इस जमावड़े से कोरोना से जंग को नुकसान पहुंचा। ऐसे लोगों को तो गोली मारकर खत्म कर देना चाहिए। उन्हें भला इलाज की क्या जरूरत? एक अलग कानून बनाकर उन लोगों का इलाज रोक देना चाहिए। यदि वे सोचते हैं कि उनका धर्म देश से बड़ा है और वे कुछ साजिश कर रहे हैं…वे लोगों पर थूक रहे हैं…वे नर्सों से अभद्रता कर रहे हैं…तो उन्हें सबक सिखाने की जरूरत है। ऐसे लोगों को तो बुरी तरह पीटकर वीडियो वायरल कर देना चाहिए।’

एमएनएस चीफ ने कहा, ‘यह वक्त किसी धर्म पर बहस करने का नहीं है, लेकिन मुस्लिमों से यदि कुछ ऐसा कर रहे हैं तो उनपर कार्रवाई की जरूरत है। उन्हें समझने की जरूरत है कि लॉकडाउन कुछ दिनों के लिए ही है। इसके बाद वहां हमलोग होंगे।’

Leave a Reply