प्‍लास्टिक की दीवार करेगी कोरोना का वार बेकार?

प्‍लास्टिक की दीवार करेगी कोरोना का वार बेकार?

गया

देशभर में कोरोना वायरस के मामले बढ़ रहे हैं। हालात खराब होते देख कई राज्‍यों में लॉकडाउन कर दिया गया है। कुछ जगह तो कर्फ्यू तक लगाया गया है। बिहार में भी जरूरी सेवाओं को छोड़कर बाकी सब बंद कर दिया गया है। जरूरी सेवाओं में बैंक भी शामिल है। ऐसे में उन्‍हें इंफेक्‍शन से बचाने के लिए गया में पंजाब नेशनल बैंक की चांदचौरा ब्रांच ने अनूठा तरीका निकाला है। यहां के मैनेजर ने काउंटर पर प्‍लास्टिक की दीवार लगा दी है ताकि बैंकर्स और ग्राहकों के बीच इंफेक्‍शन न फैले।

बैंक के भीतर तो प्‍लास्टिक की दीवार लगाई ही गई है। बाहर लगे ATM, BNA और पासबुक अपडेशन मशीन को दिन में चार बार सैनिटाइजर में कपड़ा भिगोकर साफ किया जा रहा है। सैनिटाइजेशन को लेकर इस तरह की पहल करने वाला यह जिले का ही नहीं, शायद राज्‍य का पहला बैंक है।

डिस्‍टेंस रहता है मेंटेन
PNB के मैनेजर मंटू शर्मा ने बताया कि चांदचौरा वाली ब्रांच में देश-विदेश के श्रद्धालु आते हैं। कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए पहले उन्‍होंने काउंटर के पास रस्‍सी लगाने का सोचा था, लेकिन वह आइडिया काम नहीं आया। फिर उन्‍होंने सोचा कि क्‍यों न काउंटर पर प्‍लास्टिक की दीवार बना दी जाए। इससे बैंककर्मियों और ग्राहकों के बीच दूरी भी रहेगी और काम भी चलता रहेगा।

शहरी इलाकों में टोटल लॉकडाउन
कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए बिहार सरकार भी सक्रिय है। राज्य के शहरी इलाकों में लॉकडाउन कर दिया गया है। इस दौरान निजी प्रतिष्ठानों, निजी कार्यालयों एवं सार्वजनिक परिवहन को पूरी तरह बंद किया गया है। आवश्यक एवं अनिवार्य सेवाओं से संबंधित प्रतिष्ठानों को बंद से छूट है। वहीं, करदाताओं को बड़ी राहत देते हुए बकाया न चुकाने वालों के बैंक खाते को अटैच (जब्त) करने के आदेश को फिलहाल वापस ले लिया गया है। बिहार के उपमुख्यमंत्री और वित्तमंत्री सुशील कुमार मोदी ने सोमवार को यह जानकारी दी।

राहत के लिए सीएम ने किए ऐलान
मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार ने सोमवार को लॉकडाउन के मद्देनजर राहत देने वाले कुछ फैसले किए। राशन कार्ड वाले परिवारों को एक महीने तक मुफ्त राशन दिया जाएगा। जिन इलाकों में लॉकडाउन है, वहां राशन कार्ड धारक परिवारों को 1,000 रुपये मिलेंगे। पेंशनर्स को 3 महीने की पेंशन एडवांस में दी जाएगी। इसके अलावा, कक्षा 1 से 12 तक के स्‍टूडेंट्स को 31 मार्च तक स्‍कॉलरशिप मिल जाएगी। नीतीश ने सोमवार को यह फैसले किए। नीतीश के अनुसार, राज्‍य के सभी डॉक्‍टर्स और मेडिकल स्‍टाफ को उनके एक महीने के बेसिक पे जितनी रकम एनकरेजमेंट के रूप में दी जाएगी।

Leave a Reply